loading...

राहुल गाँधी ने आज कहा मैं नरेंद्र मोदी की तरह नहीं हूं जिन्होंने 4 साल में एक भी प्रेस कॉन्फ्रेंस नहीं की। मोदी की तरह मैं पत्रकारों के सवालों से डरता नहीं हूँ।

कर्नाटक में 224 सदस्यों वाली विधानसभा के लिए चुनाव होने हैं। 12 मई को मतदान होगा, जबकि 15 मई को नतीजे आएंगे। गुरुवार शाम के बाद यहां चुनाव प्रचार थम जाएगा। ऐसे में प्रचार के अंतिम दिन राहुल बेंगलुरू में प्रेस कॉन्फेंस कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि पीएम ने कर्नाटक के लिए कुछ भी नहीं किया। राहुल गांधी ने कर्नाटक बीजेपी के द्वारा उनकी मां और पूर्व कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी को उनके इटली वाले नाम से पुकारे जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत भाजपा को करारा जवाब दिया है। मंगलवार (8 मई) को बीजेपी कर्नाटक के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से सोनिया गांधी को ‘मिस एंटोनियो माइनो’ लिखकर संबोधित किया गया था। ट्वीट में लिखा गया था कि आज मिस एंटोनियो माइनो यहां कर्नाटक में आखिरी किला बचाने के लिए हैं। मैडम माइनो, कर्नाटक को ऐसे शख्स से सीखने की जरूर नहीं है जो देश के 10 कीमती वर्ष बर्बाद करने के लिए व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार है। इस पर राहुल गांधी ने कहा-

मेरी मां इटैलियन हैं, उन्होंने अपने जीवन का बड़ा हिस्सा भारत में भी जिया है। मैं देखता हूं कि वह कई भारतीयों से ज्यादा भारतीय हैं। मेरी मां ने इस देश के लिए बलिदान दिया है, वह इसकी पीड़ा से गुजरी हैं। यह प्रधानमंत्री की क्वॉलिटी बताता है जब वह इस तरह की टिप्पणियां करते हैं।”

राहुल गांधी ने बेंगलुरु में पत्रकारों से बात करते हुए बीजेपी और पीएम मोदी पर और भी हमले बोले। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री वही बोलते हैं जो उनके दिल में होता है। बेशक वह अब आश्वस्त हैं और वह सही हैं कि वह कर्नाटक, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, राजस्थान और 2019 हारने जा रहे हैं।

राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि मोदी अपने अंदर से गुस्सा हैं। वह उनसे ही नहीं, सबसे गुस्सा हैं। उन्हें कहा कि यह उनकी समस्या नहीं है।कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है, “पीएम देश में दलितों का मुद्दा नहीं उठा रहे हैं। वह इसके बजाय हमारी (कांग्रेस की) बात कर रहे हैं। लेकिन हम तो दलितों की ही बात करेंगे।” उन्होंने इस पर जवाब दिया, “पीएम मोदी ने मुद्दा भटकाने की कोशिश हर बार करते है।” ऐसे में प्रचार के अंतिम दिन राहुल बेंगलुरू में प्रेस कॉन्फेंस कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पीएम ने कर्नाटक के लिए कुछ भी नहीं किया। वह भ्रष्टाचार की बात करते हैं, जबकि येदियुरप्पा भ्रष्टाचार के आरोप में जेल जा चुके हैं। रेड्डी बंधुओं ने यहां के लोगों का खूब पैसा लूटा है।

राहुल बोले, “पीएम मुद्दा भटका रहे हैं। राहुल यहीं नहीं रुके। वह बोले, “बीजेपी हिंदू का मतलब नहीं जानती। मैं मंदिर-मस्जिद जाता रहा हूं। वह हिंदू शब्द से वाकिफ नहीं है, इसलिए मुझे चुनावी हिंदू कहती है।

पीएम चीन गए लेकिन डोकलाम पर एक लफ्ज नहीं बोले। वह बिना एजेंडा के वहां गए थे, जबकि असल एजेंडा डोकलाम था। उनके मुताबिक, वह आगे बोले निजी हमले करके बीजेपी ने दिखा दिया कि उनमें गंभीरता नहीं है।

राहुल गांधी ने पत्रकारों से सवाल किया क्या प्रधानमंत्री का निजी हमले करना ठीक है? ये चुनाव मेरे पीएम बनने के लिए नहीं है। बीजेपी 2019 का चुनाव हार जाएगी। कर्नाटक में कांग्रेस ही बाजी मारेगी। ये कर्नाटक और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की विचारधारा के बीच की जंग है। असलियत है कि वे बुरी तरह से घबरा चुके हैं और उन्हें अपनी हार का अहसास हो गया है।

पीएम ने कहा था- मातृ भाषा में कर्नाटक की उपलब्धि बताएं बता दें कि एक रैली के दौरान प्रधानमंत्री ने राहुल गांधी से कहा था कि वो बिना कागज देखे 15 मिनट कर्नाटक सरकार की उपलब्धियां बताएं. वो चाहें तो अपनी मातृभाषा में भी बोल सकते हैं। राहुल गांधी,ने बोला कि ‘मोदी जी में भी गुस्सा है, हर किसी के लिए गुस्सा है. वो मुझे चुनौती के तौर पर देखते हैं इसलिए मुझ पर ज्यादा गुस्सा करते हैं।उनका गुस्सा उनकी अपनी समस्या है, वो मेरी समस्या नहीं है. मेरी समस्या है कि कैसे इस देश के लोगों के लिए काम किया जाए।

राहुल ने कहा बीजेपी में गंभीरता नहीं है।

राहुल गांधी ने कहा, ”मुझे पर, सिद्धारमैया जी पर और खड़गे जी पर निजी हमले करके बीजेपी ने दिखा दिया है कि कर्नाटक के लिए उनमें गंभीरता नहीं है. वीरप्पा मोइली जी ने पूरे राज्य में घूमकर कांग्रेस का घोषणापत्र तैयार किया वहीं बीजेपी ने बंद कमरे में घोषणापत्र बनाया और आधा हमारा कॉपी कर लिया.

राहुल ने कहा मुझे पूरा विश्वास है कि कांग्रेस इस चुनाव को जीतने जा रही है। राहुल ने कहा कि महिलाओं के खिलाफ अत्याचार निश्चित तौर पर राजनीतिक मुद्दा है।क्या देश की महिलाओं से बलात्कार होता रहे और वो चाहते हैं कि राजनीतिक दल इस पर चुप रहें?

ध्यान रहे की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि रेप जैसे मसलों पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। राहुल गांधी ने कहा कि रेड्डी ब्रदर्स ने 35000 रुपये कर्नाटक की जनता से चोरी किये हैं. एक तरफ ईमानदार सिद्धारमैया जी हैं और दूसरी तरफ जेल से निकले हुए लोग हैं। जहाँ तक मेरा मानना है कि यह तो जनता को अहसास करना चाहिए।देश के लिए मर मिटनेवाले गांधी परिवार से देशभक्ति का सबूत मागा जा रहा है। राहुल गाँधी ने बेंगलुरु में सिद्धारमैया और कांग्रेस के अन्य वरिष्ठ नेताओं के साथ प्रेस कांफ्रेंस की. कांफ्रेस में उन्होनें भाजपा पर मैनिफेस्टो की नक़ल करने जैसे कई संगीन आरोप लगाए हैं।

साथ ही में राहुल ने प्रधानमंत्री पर चुटकी लेते हुए ट्वीट किया ‘माफ कीजिएगा, समय की कमी के चलते प्रेस कॉन्फ्रेंस में हर किसी को सवाल पूछने का मौका नहीं मिला। लेकिन मैं पीएम मोदी की तरह नहीं हूं जिन्होंने चार साल में एक भी प्रेस कॉन्फ्रेंस नहीं की। मैं ऐसे प्रेस कॉन्फ्रेंस करता रहूंगा’

✍ शिल्पी सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here