loading...

कर्नाटक चुनाव काफी दिलचस्प बनता जा रहा है जहां एक तरफ राहुल और मोदी का वार पलटवार चल ही रह था तो अब उस में कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया भी कूद गए हैं।

मोदी की ‘चौकीदारी’ पर सवाल उठाते हुए कर्नाटक सीएम सिद्धारमैया ने पूछा कि उन्होनें माल्या और नीरव मोदी को देश से कैसे भागने दिया।

साथ ही ये भी पूछा कि अच्छे दिन कहाँ है। सिद्धारमैया ने सवाल किया कि ‘खुद को मोदीजी चौकीदार कहते हैं तो माल्या और नीरव मोदी को कैसे भाग जाने दिया ? अच्छे दिन का वादा करने वाले मोदी बताएं कहाँ हैं अच्छे दिन ?

कांग्रेस का आखिरी बड़ा किला ढहाने के लिए कर्नाटक गए मोदी और शाह मुसीबत में फंस गए हैं। भाजपा को जिताने और येदुरप्पा को सीएम बनाने के चक्कर में वहां के CM सिद्धरमैया पर अनाप-शनाप आरोप लगाते हुए जमकर भाषणबाजी कर रहे हैं। इसी से नाराज़ सिद्धरमैया ने कानूनी नोटिस भेज दिया। नरेंद्र मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और भाजपा के सीएम उम्मीदवार येदुरप्पा को न सिर्फ कानूनी नोटिस भेजी गई है बल्कि सार्वजनिक रूप से माफी मांगने के लिए भी कहा गया है। इसके साथ ही 100 करोड़ की मानहानि का केस भी ठोका है।

भारत के राजनीतिक इतिहास में शायद ही कोई प्रधानमंत्री ऐसा रहा होगा जिसको चुनावी भाषणों में इस तरह झूठ का प्रचार प्रसार करते हुए पाया गया हो। और विपक्ष का कोई नेता झूठ बोलने के लिए मानहानि का केस दर्ज किया हो। अगर कानूनी कार्रवाई तेज हुई तो कर्नाटक चुनाव में बड़बोलापन पीएम मोदी और अमित शाह को भारी पड़ सकता है।

कर्नाटक हाईकोर्ट ने भाजपा को पहले ही झटका दे दिया है। CNN News के मुताबिक, कोर्ट ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव में भाजपा के मुख्यमंत्री उम्मीदवार बीएस येदुरप्पा के खिलाफ एक अवैध भूमि आवंटन का मामला कार्रवाई के लिए आदेश दिए है। कोर्ट ने इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं। शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने जनार्दन रेड्डी को अपने भाई और भाजपा उम्मीदवार जी. सोमशेखर रेड्डी के लिए चुनाव प्रचार करने के लिए बेल्लारी जाने की इजाजत नहीं दी थी।

भ्रष्टाचार मुक्त का नारा लगाने वाली भाजपा को लगातार उसके नेताओं के भ्रष्टाचार के मामलों से जुड़े रहने के चलते सवालों का सामना करना पड़ रहा है।
पीएम मोदी ने कहा था कि सिद्धारमैया सरकार राज्य में किसी भी काम के लिए 10% कमिशन लेती है.इस नोटिस में उनसे बिना शर्त माफी मांगने या 100 करोड़ रुपये के मानहानि मामले का सामना करने को कहा गया है.

कर्नाटक में विधानसभा चुनाव होने में अब सिर्फ 3 दिन बचे हैं. वहां सियासी पारा भी लगातार चढ़ता जा रहा है.कर्नाटक के रण को जीतने के लिए भारतीय जतना पार्टी से लेकर कांग्रेस तक ने एड़ी-चोटी का जोर लगा दिया है. कर्नाटक की जनता को लुभाने के लिए दोनों तरफ से ताबड़तोड़ रैलियां हो रही हैं। भ्रष्टाचार पर हमला बोलने वाले पीएम मोदी से सिद्धारमैया कर्नाटक चुनाव में भ्रष्टाचारियों टिकट दिए जाने के मामले पर सवाल किया और कहा कि ‘पीएम ने अपने दोस्तों और परिवारवालों को 8 टिकट दिए हैं। बीजेपी को उम्मीद है कि इससे उन्हें 10-15 सीटें मिल जाएंगे।

दूसरे सवाल में उन्होंने बीजेपी के दागी मुख्यमंत्री उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा का ज़िक्र करते हुए कहा कि बीजेपी ने पहले तो पार्टी ने बीएस येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री उम्मीदवार नहीं बनाया था।
सिद्धारमैया ने पूछा कि कर्नाटक के लोग जानना चाहते है कि क्या येदियुरप्पा अब बीजेपी के सीएम उम्मीदवार है। कर्नाटक में बीजेपी रेप उन आरोपियों को टिकट दिया है, जो विधानसभा में बैठकर पोर्न देखते है।

उन्होंने अगला सवाल 15 लाख वाले सवाल पूछा और पकौड़े का नाम लेकर मजाक भी उड़ाया। सिद्धारमैया ने कहा कि पीएम कहते है 15 लाख देंगें फिर पार्टी अध्यक्ष कहते है वो तो जुमला था इसके बाद वो युवाओं के कहते है पकौड़ा बेचो।

शिल्पी सिंह

1 COMMENT

  1. आदरणीय प्रधानमंत्री जी र्कनाटक चुनाव में आपने र्कनाटक वाशियों को अपना कोई भी रिश्ता नहीं बताया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here