loading...

आज राहुल गांधी ने प्रेस कांफ्रेस कर मोदी सरकार पर रॉफेल मे दलाली का आरोप लगाते हुए कहा कि सरल बात ये है कि इस डील मे चौकीदार भागीदार होने के साथ साथ चोर भी है राहुल गांधी ने सीधे शब्दो मे कहा कि अगर मोदी जी सही है तो वो इस पर चुप्पी क्यो नही तोड रहे है, राहुल गांधी की प्रेस कांफ्रेस के बाद ये साबित हो गया कि कांग्रेस इस मुद्दे पर लगातार आक्रामक रहेगी और जब तक मोदी इस पर अपनी चुप्पी नही तोडेगे तब तक सरकार से विपक्ष सवाल करता रहेगा

राहुल गांधी की प्रेस कांफ्रेस के मुख्य बिंदु –

–  सब कुछ ठीक नहीं है। फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ने भारत के प्रधानमंत्री के बारे में बयान दिया है

– फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ने एक बयान दिया है और उनका कहना है कि अनिल अंबानी की कंपनी को चुनने में उनका कोई फैसला नहीं था

– फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति कह रहे हैं कि अनिल अंबानी की कंपनी को जो हजारों करोड़ का तोहफा दिया है वो नरेन्द्र मोदी जी के कहने पर दिया


– मतलब फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री को चोर कह रहे हैं। हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री को अपनी सफाई देनी चाहिए| मुझे समझ नहीं आ रहा है कि हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री से एक शब्द क्यों नहीं निकल रहा है?

– 30 हजार करोड़ रुपये का मुफ्त तोहफा नरेन्द्र मोदी जी ने अनिल अंबानी जी को दिया है| ये दिमाग में घुस गया है कि देश का चौकीदार चोर है। प्रधानमंत्री जी आप सफाई दीजिए

– जो हवाई जहाज 526 करोड़ का यूपीए सरकार ने खरीदा वो नरेन्द्र मोदी जी ने अंबानी जी की जेब में पैसा डालने के लिये 1600 करोड़ में खरीदा| सच्चाई ये है कि लोग एक के बाद एक झूठ बोल रहे हैं और ये झूठ किसको बचाने के लिये बोल रहे हैं

– जिस व्यक्ति पर देश के युवाओं ने भरोसा किया था उस व्यक्ति ने देश के लोगों का भरोसा तोड़ा। राफेल के मामले में शत प्रतिशत भ्रष्टाचार हुआ है।

– इस मामले में संयुक्त संसदीय समिति से जांच होनी चाहिए। सारा सच सामने आ जायेगा।

– रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने पहले कहा वो दाम बतायेंगी। फिर कहा नहीं बता सकती, ये टॉप सीक्रेट है। फ्रांस के राष्ट्रपति ने कहा कि हवाई जहाज की कीमत बताने को लेकर कोई गोपनीय प्रावधान नहीं है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here