अंतरिम अध्यक्ष को लेकर सोनिया गांधी ने पार्टी नेताओं को दिया ये जबाब

0
2868
loading...

कई तरह के सियासी संकटो से जूझ रही कांग्रेस को राहुल गांधी के अध्यक्ष पद से इस्तीफे के बाद नए अध्यक्ष की तलाश है। इस बीच कांग्रेस के कई नेताओं ने नया अध्यक्ष नही मिल जाने तक कार्यकारी अध्यक्ष के तौर सोनिया गांधी से ये जिम्मेदारी संभालने का आग्रह किया है। पर रायबरेली से सांसद और UPA चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने साफ कर दिया है कि वो इस जिम्मेदारी के लिए तैयार नहीं हैं। पार्टी नेताओ ने सोनिया गांधी से अतंरिम अध्यक्ष बनने का आग्रह किया, जिसके लिए वो नहीं मानीं।

19 साल तक कांग्रेस अध्यक्ष रही हैं सोनिया गांधी 2017 में इस्तीफा दे चुकी हैं जिसके बाद राहुल गांधी अध्यक्ष बने थे।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, सोनिया गांधी ने इस जिम्मेदारी को लेकर नजदीकी नेताओं से कहा कि जिस तरह से उनका स्वास्थ्य कुछ समय से हैं वो खुद को इस रोल के लिए फिट नहीं पाती हैं।
72 साल की सोनिया गांधी बीते कुछ समय से खराब स्वास्थ्य से जूझ रही हैं। सोनिया गांधी 1998 से 2017 तक 19 साल कांग्रेस की अध्यक्ष रही हैं। उनके अध्यक्ष रहते पार्टी ने 2004 और 2009 में दो बार केंद्र में सरकार बनाई।

राहुल गांधी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद उनकी बहन प्रियंका गांधी और मां सोनिया का नाम बीच-बीच में सामने आया है। हालांकि राहुल ने काफी पहले ही ये कह दिया है कि कांग्रेस अपना अध्यक्ष नेहरू-गांधी परिवार के बाहर से ढूंढे।

राहुल गांधी ने 3 जुलाई को कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। राहुल ने चुनाव में पार्टी की हार के बाद अध्यक्ष पद से इस्तीफा की पेशकश की थी। जिसके बाद पार्टी नेता उनको अध्यक्ष पद पर बने रहने के लिए कह रहे थे। करीब एक महीने तक उनको मनाने का दौर चला। राहुल ने पद पर बने रहने से इनकार करते हुए कहा कि हार की जिम्मेदारी अध्यक्ष नहीं लेगा तो ये ठीक नहीं होगा। राहुल के इस्तीफे के बाद पार्टी नए अध्यक्ष की तलाश में है।

कई राज्यो में सियासी उथलपुथल के कारण CWC के मीटिंग में हो रही देरी से पार्टी को नया अध्यक्ष चुनने में देरी हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here