इस वजह से नही हो रहा कांग्रेस कार्यसमिति का बैठक , पार्टी को नया अध्यक्ष मिलने में लग सकता है और वक्त

0
255
loading...

कर्नाटक के सियासी उठापटक के कारण कांग्रेस कार्य समिति की बैठक का समय तय नही हो पा रहा है क्योंकि CWC के कई अहम सदस्य कर्नाटक सरकार पर आए संकट को खत्म करने में लगे हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को सीडब्ल्यूसी में इस्तीफा दिए हुए 45 दिन हो चुके हैं। तीन जुलाई को राहुल गांधी ने दोबारा साफ कर दिया कि वे अब कांग्रेस अध्यक्ष नहीं हैं। नया अध्यक्ष बनाने के लिए CWC की बैठक आवश्यक है। जिसके बारे में खबर थी कि 10 जुलाई को होगी पर कर्नाटक के सियासी उठापटक के कटान अब ये बैठक कब होगी किसी को पता नहीं है।

CWC की बैठक के बाद ही पार्टी में नेतृत्व संकट और नए अध्यक्ष को लेकर कोई प्रक्रिया शुरू होगी। वरिष्ठ महासचिव मोतीलाल वोरा का इस संबंध में कहना है कि वे महासचिव संगठन केसी वेणुगोपाल के साथ सीडब्ल्यूसी की संभावित तारीख पर चर्चा करेंगे।

कर्नाटक में मचे घमासान के बाद पार्टी का पूरा फोकस उसी पर है। CWC के जुड़े नेताओं में महासचिव संगठन केसी वेणुगोपाल कर्नाटक इकाई के प्रभारी हैं लिहाजा वहीं डेरा डाले हैं। 

कर्नाटक के पूर्व सीएम के सिद्दारमैय्या वहीं डटे हैं जबकि गुलाम नबी आजाद और मल्लिकार्जुन खड़गे को भी बंगलूरू भेजा गया है। महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी विदेश गई थीं और बुधवार को वे लौट आई हैं।

उधर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने खुले आम अपनी पीड़ा बतानी शुरू कर दी है। पहले डॉ. कर्ण सिंह और फिर जनार्दन द्विवेदी खुलकर सीडब्ल्यूसी की बैठक जल्द बुलाने की बात कह चुके हैं।

ऐसे में नहीं लगता कि जब तक कर्नाटक के संकट का समाधान नहीं होता पार्टी सीडब्ल्यूसी की बैठक बुलाएगी। 

दरअसल जब से पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के किसी युवा को अध्यक्ष बनाने का सुझाव दिया है उसके बाद से ही वरिष्ठ नेताओं में खलबली मची है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here