दिग्विजय सिंह का PM मोदी को चैलेंज , हिम्मत है तो मोदी…

0
3722

मध्यप्रदेश भाजपा के विधायक और बीजेपी के वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय द्वारा अधिकारी को बल्ले द्वारा पिटे जाने के मामले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी की संसदीय दल की बैठक में नाराजगी जाहिर की है. उन्होंने कहा कि ऐसी हरकतें किसी भी तरह से स्वीकार नहीं हैं।

भाजपा नेता राजीव प्रताप रूडी के अनुसार ‘प्रधानमंत्री बहुत नाराज थे. उन्होंने कहा कि बदसलूकी करने, पार्टी को बदनाम करने या सार्वजनिक रूप से अहंकार दिखाने का हक किसी के पास नहीं है. उन्होंने कड़े शब्दों में यह बात कही. साथ ही कहा कि ऐसी हरकतें स्वीकार नहीं है.’ 

PM मोदी द्वारा इस मामले पर नाराजगी जताने के बाद कांग्रेस ने PM मोदी पर भी निशाना साधा और कांग्रेस के फायरब्रांड नेता और MP के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा की अगर पीएम में हिम्मत है तो आकाश विजयवर्गीय को निष्कासित करके दिखाएं. पीएम कहते कुछ हैं और और करते कुछ हैं. मुझे उम्मीद नहीं है कि आकाश के खिलाफ कुछ किया जाएगा। दिग्विजय ने कहा पीएम ने प्रज्ञा के मामले में कहा था कि वो उन्हें दिल से माफ नहीं करेंगे. लेकिन आज तक भाजपा ने कोई कार्रवाई नहीं की।

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के दौरान प्रज्ञा ठाकुर द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे गोडसे को देशभक्त बताए जाने के मामले पर भी PM मोदी ने ऐसे ही नाराजगी जताई थी पर कोई कारवाई नही हुआ।

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के अलावा बसपा के वरिष्ठ नेता सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा की पीएम ने आज चिंता जताई है. लेकिन आकाश विजयवर्गीय के खिलाफ काफी पहले ही भाजपा को एक्शन लेना चाहिए था. अब देखना होगा कि अब पार्टी उनके खिलाफ कितनी सख्त कार्रवाई करती है”

इससे पहले  पिछले सप्ताह आकाश विजयवर्गीय ने नगर निगम के अधिकारी की क्रिकेट के बैट के साथ पिटाई की थी. इसके बाद आकाश विजयवर्गीय को गिरफ्तार कर लिया गया था. गिरफ्तारी के बाद भोपाल की विशेष कोर्ट ने उन्हें शनिवार को जमानत दी और रविवार सुबह उन्हें जेल से रिहा किया गया. जेल से रिहा होने के बाद आकाश विजयवर्गीय का भव्य स्वागत किया गया था और शहर भर में पोस्टर भी लगाए गए थे , कुछ लोगो का कहना है कि स्वागत समारोह में हवाई फायरिंग तक कि गई थी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार PM मोदी ने भाजपा संसदीय दल की बैठक में कहा कि चाहे किसी का बेटा हो, उसे पार्टी से निकाल देना चाहिए. इसके साथ ही सूत्रों ने बताया कि पीएम मोदी ने यह भी कहा है कि जिन्होंने भी उनके जेल से बाहर आने के बाद स्वागत किया है, उन्हें भी पार्टी से बाहर कर देना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here