पूर्व PM डॉ मनमोहन सिंह का निर्विरोध जितना तय , बीजेपी नही खड़ा करेगी प्रत्याशी

0
204
loading...

राजस्थान राज्यसभा सीट से डॉ मनमोहन सिंह का निर्विरोध जितना लगभग तय हो चुका है क्योंकि माना जा रहा है कि बीजेपी अपना प्रत्याशी खड़ा नही करेगी क्योंकि संख्याबल के अनुसार भी डॉ मनमोहन सिंह का जितना तय है।

राजस्थान के राज्यसभा की एक सीट के उपचुनाव में बीजेपी ने अपना प्रत्याशी नहीं उतारने का फैसला किया है। इस के साथ ही पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का राजस्थान से राज्यसभा के लिए निर्विरोध चुना जाना लगभग तय हो गया है।

पूर्व PM डॉ मनमोहन सिंह ने मंगलवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल किया।

विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने बताया कि भाजपा राजस्थान से राज्यसभा सीट के उपचुनाव के लिए अपना प्रत्याशी नहीं उतारेगी।

बीजेपी प्रवक्ता के अनुसार अनुसार पार्टी आलाकमान ने अपने इस फैसले को प्रदेश नेतृत्व से अवगत करवा दिया है।

राज्य विधानसभा का संख्या बल कांग्रेस के पक्ष में है। राजस्थान विधानसभा में कुल 200 सीटें हैं। कांग्रेस के पास 100 विधायक हैं जबकि उसके गठबंधन सहयोगी राष्ट्रीय लोकदल का एक विधायक है। भारतीय जनता पार्टी के पास 72, बहुजन समाज पार्टी के पास छह, भारतीय ट्राइबल पार्टी, माकपा व राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के पास दो दो विधायक है। 13 निर्दलीय विधायक हैं तो दो सीट खाली हैं। सत्तारूढ़ कांग्रेस के पास 12 निर्दलीय एवं बसपा के विधायकों का बाहर से समर्थन भी है। ऐसे में कांग्रेस का ये सीट जितना तय है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मनमोहन सिंह लगभग तीन दशक तक असम से राज्यसभा सदस्य निर्वाचित होते रहे। वह 1991 से 2019 तक लगातार पांच बार राज्यसभा सदस्य रहे और 2004 से 2014 तक लगातार दो बार प्रधानमंत्री पद पर रहे। अगर वह राजस्थान से चुने जाते हैं तो यह उनका संसद के उपरी सदन में छठा कार्यकाल होगा।

राजस्थान से राज्यसभा की दस सीटें हैं। इस बीच सिंह ने मंगलवार को यहां राज्य विधानसभा में निर्वाचन अधिकारी के सामने सिंह ने अपने नामांकन के चार सैट दाखिल किए। नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद सिंह ने उन्हें नामांकित करने के लिए कांग्रेस पार्टी का आभार जताया। इसके साथ ही उन्होंने मदन लाल सैनी के परिवारजनों के लिए सांत्वना व्यक्त की।

राज्य से राज्यसभा के लिए चुने जाने वाले वे पहले पूर्व प्रधानमंत्री होंगे। राजस्थान में राज्यसभा के उपचुनाव के लिए नामांकन 14 अगस्त तक दाखिल किए जा सकते हैं। मतदान 26 अगस्त को होगा। उसी दिन गणना होगी। चुनाव प्रक्रिया 28 अगस्त को पूरी हो जाएगी।

राजस्थान की जनता व कांग्रेस पार्टी का आभार जताते हुए उन्होंने कहा कि वह प्रदेश की जनता के हितों के लिए हरसंभव प्रयास करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा,”मैं कांग्रेस पार्टी और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट तथा कांग्रेस पार्टी के सभी सदस्यों के लिए आभारी हूं कि उन्होंने मुझे राज्यसभा की इस रिक्त सीट के लिए नामित किया है।”

इसके साथ ही कांग्रेस का राज्यसभा में एक सीट और बढ़ जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here