राहुल गांधी ने अर्थव्यवस्था को लेकर मोदी सरकार पर किया प्रहार , कहा दुष्प्रचार नही….

0
103
loading...

भारत की अर्थव्यवस्था के लिए लगातर बुरी खबर सामने आ रही है। जिस कारण देश की अर्थव्यवस्था हर दिन अपने बुरे दौर में जा रही है। देश की बदहाल होती अर्थव्यवस्था को लेकर सरकार विपक्षी दलों नेताओ के निशाने पर है।

ऐसे में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंदी को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला बोला है। राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए कहा कि मोदी सरकार पर देश में चल रहे आर्थिक संकट को छिपाने के लिए दुष्प्रचार का सहारा ले रही है। राहुल गांधी ने कहा कि इस समय दुष्प्रचार, मनगढ़ंत खबरों और युवाओं के बारे में मूर्खतापूर्ण बातें करने की जरूरत नहीं है, बल्कि भारत को एक ठोस नीति की जरूरत है ताकि अर्थव्यवस्था की स्थिति को ठीक किया जा सके।’

राहुल गांधी ने कहा कि ‘पहले स्वीकार करिए कि हमारे सामने समस्या है। यह स्वीकार करना ही अच्छी शुरुआत होगी।’ इसके साथ-साथ राहुल गांधी ने एक अखबार में छपे पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के साक्षात्कार का हवाला देते हुए गांधी ने यह भी कहा कि पहले सरकार को स्वीकार करना चाहिए कि अर्थव्यवस्था को लेकर समस्या है।

इससे पहले कांग्रेस ने साक्षात्कार को साझा किया और सिंह के हवाले से कहा, “मेरा मानना है कि अब हम एक अलग तरह के संकट में प्रवेश कर रहे हैं, एक लंबी आर्थिक मंदी जो संरचनात्मक है। इस संकट का पहला कदम है कि हम स्वीकार करें कि हम इस समस्या का सामना कर रहे हैं। बता दें कि मंदी को लेकर विपक्ष पहले से ही नरेंद्र मोदी सरकार पर हमलावर है।

इससे पहले कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी अर्थव्यवस्था को लेकर ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने कहा था कि चुनाव के पहले गया था कि ओला-उबर ने रोजगार बढ़ाएं हैं। लेकिन अब बोला जा रहा है कि ओला-उबर की वजह से आटो सेक्टर में मंदी आ गई है। प्रियंका ने सवाल किया कि बीजेपी की यह सरकार अर्थव्यवस्था के मामले में इतनी भ्रमित क्यों हैं।

हर संस्था के रिपोर्ट में इस बात को लेकर चर्चा हो रही कि देश की अर्थव्यवस्था कमजोर हो रही है मगर सरकार इसको स्वीकारने के जगह ऐसे तर्को और भ्रमित करने वाले प्रचार का सहारा ले रही है जिससे अर्थव्यवस्था को कोई फायदा नही होने वाला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here