आम जनता के लिए एक और झटका , अब रेलवे टिकट हुआ महंगा

0
100
loading...

बढ़ती महंगाई और आर्थिक मंदी से पहले ही परेशान जनता को केंद्र सरकार ने एक और झटका दिया है। आम जनों के द्वारा परिवहन के लिए सबसे अधिक उपयोग किए जाने वाले रेल टिकट का भरा में बढ़ोतरी होने जा रहा है।

रेल यात्रियों के लिए बड़ी खबर सामने आ रही है। 1 सितंबर यानी रविवार से आपके ट्रेन का सफर महंगा हो जाएगा। भारतीय रेलवे ने इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) से खरीदे जाने वाले ई-टिकट पर सर्विस चार्ज दोबारा से लागू कर दिया है।

इस सर्विस चार्ज के फिर लगाए जाने का सीधा मतलब है कि ट्रेन यात्रियों को IRCTC से ऑनलाइन ट्रेन का टिकट लेने पर ज्यादा पैसे खर्च करने पड़ेंगे। जानकारी के मुताबिक, IRCTC ई-टिकट बुक करने पर 20 रुपये से 40 रुपये तक का सर्विस चार्ज लगाएगा।

IRCTC की ओर से जारी आदेश के अनुसार, ‘आईआरसीटीसी नॉन-एसी क्लास के लिए 15 रुपये प्रति टिकट और एसी क्लास के लिए 30 रुपये प्रति टिकट का सर्विस चार्ज लेगी।
इसके अलावा इस पर जीएसटी भी अतिरिक्त देना होगा। एक तरह से देखें तो अब रेल यात्रियों को नॉन-एसी स्लीपर क्लास के ई-टिकट पर 20 रुपए का सर्विस चार्ज देना होगा। वहीं एसी क्लास के ई-टिकट पर 40 रुपए का सर्विस चार्ज चुकाना होगा।

हालांकि, भीम-ऐप से भुगतान करने पर स्लीपर क्लास के लिए 10 रुपए का सर्विस चार्ज लगेगा, वहीं एसी के लिए भीम-ऐप से भुगतान करने पर 20 रुपए का सर्विस चार्ज देना होगा।

रेलवे अधिकारियों के मुताबिक, सर्विस टैक्स हटाए जाने के बाद IRCTC के राजस्व में 26 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई। ऐसे में रेलवे ने IRCTC को दोबारा से सर्विस टैक्स वसूलने की छूट दी गई है। बता दें कि IRCTC ने रेलवे को एक पत्र लिखकर टैक्स लगाए जाने की मांग की थी, जिसे रेलवे बोर्ड ने मंजूर कर लिया।

ई-टिकट बनाकर सफर करने वाले जनता पर महंगाई का ये अतिरिक्त बोझ पर जाने के बाद जनता में साफ निराशा देखी जा रही है और कुछ लोगो ने तो यहां तक कह दिया कि सरकार सिर्फ चुनावी मौसमो में छूट देती है और फिर उसकी भरपाई के लिए अन्य टैक्स के जरिये हम से पैसा वसूल ही लेती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here