राजस्थान कांग्रेस ने उपचुुनाव के लिये कसी कमर

0
114
loading...

राजस्थान की दो सीटे मंडावा व खींवसर मे हरियाणा महाराष्ट्र चुनावो के साथ होने है इससे पहले इन सीटो पर विधानसभा चुनावो मे कांग्रेस को मात खानी पड़ी थी लेकिन इस बार उपचुनावो मे कांग्रेस इन्हे हल्के मे नही लेना चाहती है कांग्रेस इन दोनो सीटो को जीतकर अपने दम पर पूर्ण बहुमत हासिल करना चाहेगी

हालांकि बहुमत के लिये 100 विधायक चाहिये वो कांग्रेस के पास है लेकिन इन दोनो सीटो को जीतकर वो पूर्ण रूप से सुरक्षित हो सकती है आपको बता दे कि वैसे तो 6 बसपा विधायक जो कांग्रेस ज्वाइन कर चुके है वही 13 निर्दलीय विधायको ने कांग्रेस को समर्थन दे रखा है इस तरह से अशोक गहलोत सरकार को कुल 119 विधायको का अभी समर्थन प्राप्त है फिर भी कांग्रेस ये दो सीटे जीतकर पंचायत चुनाव से पहले कार्यकर्ताओं मे जोश लाने की कोशिश करेगी

पूर्व मंत्री हरेंद्र मिर्धा ने आज अपना चुनाव प्रचार खींवसर सीट के लिये शुरु कर दिया है उनके साथ सवाई सिंह चौधरी जो 2018 विधानसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी थे वो भी साथ रहे हैं, मिर्धा ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि ” कांग्रेस के लिये BJP-RLP का गठबंधन कोई चुनौती नही है इस बार खींवसर और मंडावा दोनो जगह कांग्रेस जीतेगी ”

इससे पूर्व, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने भी कार्यकर्ताओं को सुप्रीम बताते हुए कहा कि जो कार्यकर्ता कहेगे वही उम्मीदवार होगा और कांग्रेस उपचुनावो के साथ साथ पंचायत चुनावो मे भी विजयी होगी

इससे पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मास्टरस्ट्रोक खेलते हुए किसानो के लिये बडी घोषणा की हैं मुख्यमंत्री ने किसानो के हितो को ध्यान मे रखते हुए दीर्घकालीन कर्ज माफी योजना के लिये 100 करोड़ रुपये का अतिरिक्त बजट मंजूर किया है जो उपचुनावो मे कांग्रेस के लिये फायदेमंद हो सकता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here