मोदी सरकार की आलोचना करने वाले सोशल मीडिया एकाउंट को क्यों किया जा रहा है बन्द ?

0
110
loading...

आरएसएस और भारतीय जनता पार्टी कभी भी अपनी आलोचना सह नही पाती है इसका कारण यह है कि यह हमेशा विपक्ष में रही और विपक्ष में हमेशा रहते हुए सरकार की आलोचना की। लेकिन जब से बीजेपी सरकार में आई है तब से अपने गलत फैसलों के कारण आलोचना का शिकार हो रही है मगर यह आलोचना बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बर्दाश्त नहीं हो रहा है यही कारण कि पहले विपक्षी दलों के नेताओं को सरकारी एजेंसियों द्वारा परेशान कर चुप कराने के बाद अब सरकार सोशल मीडिया पर अपने विचार रखने वाले सोशल मीडिया के लोगों को चुप कराने के लिए उनका सोशल मीडिया अकाउंट बंद कर रही है चाहे वह फेसबुक पर हो या ट्विटर पर हो लगाता सरकार लोगों का सोशल मीडिया अकाउंट बंद कर रही है। खासतौर पर जो लोग कांग्रेस के पक्ष में और सरकार के विरोध में लिख रहे हैं उनके सोशल मीडिया अकाउंट को टारगेट किया जा रहा है जिस तरह से पहले कई लोगों का ट्विटर पर ब्लॉक किया गया उसके बाद अब फेसबुक पर भी है काम शुरू कर दिया गया है।

फेसबुक ने लोकसभा चुनाव से पहले कई कांग्रेस समर्थित पेजों को खत्म कर दिया गया उसी तरह कांग्रेस के समर्थन में लिखने वाले प्रोफाइल्स को भी हटाया जा रहा है और साथ ही यही काम ट्विटर पर भी किया जा रहा है।

फेसबुक ने मध्यप्रदेश कांग्रेस सोशल मीडिया की पूर्व उपाध्यक्ष शिल्पी सिंह परिहार का फेसबुक अकॉउंट हटा दिया है जो कि 2011 से था। उनके साथ कई और लोगो का भी एकाउंट ब्लॉक कर दिया गया है। साथ ही कांग्रेस के समर्थन में लिखने वाले Gopi Shah (@gops33) और @GeetV के ट्विटर अकाउंट को भी सस्पेंड कर दिया गया है।

2011 से चल रही शिल्पी सिंह परिहार का फेसबुक प्रोफाइल जिसे हटा दिया गया।

बस एक ही कारण है कि यह लोग लगातार सोशल मीडिया के माध्यम से बीजेपी सरकार की आलोचना करते हुए लोगों को जागरूक कर रहे हैं।

और सबसे आश्चर्यजनक यह है कि कांग्रेस की ऑफिशियल सोशल मीडिया टीम ऐसे लोगों को समर्थन देने और उनके साथ हो रही समस्या को खत्म करने के लिए आगे नहीं आ रही है। जिस कारण धीरे-धीरे सोशल मीडिया पर सरकार के खिलाफ लिखने वाले लोगों की कमी होने की संभावना जताई जा रही है। और यही मोदी सरकार चाहती भी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here