बहस के लिए सिब्बल ने मोदी-शाह को दी चुनौती

0
55
loading...

नागरिकता संशोधन कानून पर चल रहा विवाद खत्म होने का नाम नही ले रहा है एक तरफ देश के हर कोने में इस कानून के विरोध और समर्थन में प्रदर्शन हो रहा है तो दूसरी तरफ कांग्रेस के नेता इसको लेकर सरकार को घेरने का प्रयास कर रहे हैं।

इसी क्रम में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने अमित शाह ने सीएए, एनआरसी और एनपीआर पर मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने इस मामले में मोदी-शाह को खुली बहस की चुनौती दी साथ मीडिया को एक के बाद एक 9 झूठों से भी अवगत कराया जिसे मोदी-शाह ने समय-समय पर बोले।

सिब्बल ने कहा कि अमित शाह यह कह रहे हैं कि राहुल गांधी आएं और इस मुद्दे पर बहस करें। सिब्बल ने कहा कि मैं पीएम मोदी और अमित शाह को चैलेंज करता हूं कि वे आएं और हमसे इस मुद्दे पर बहस करें।

प्रेस से बात करते हुए कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और उनके नेता और मंत्री लागातार सीएए, एनआरसी और एनपीआर पर झूठ बोल रहे हैं।

सिब्बल ने कहा कि अमित शाह ने खुद संसद में कहा था कि सीएए के बाद पूरे देश में एनआरसी लाया जाएगा, ऐसे में सवाल यह है कि अमित शाह यह कैसे कह सकते हैं कि सीएए के साथ एनआरसी का कोई लेना देना नही है। उन्होंने कहा कि अमित शाह झूठ बोल रहे हैं।

कपिल सिब्बल ने कहा कि मोदी जी ने एक रैली ने कहा था कि एनआरसी के बारे में कोई चर्चा नहीं हुई है। कांग्रेस नेता ने कहा कि यह भी झूठ है। सिब्बल ने कहा कि राष्ट्रपति ने अपने संबोधन में भी कहा था कि सरकार एनआरसी लाएगी। उन्होंने कहा कि मैं मोदी जी से कहना चाहता हूं और अमित शाह से कहना चाहता हूं कि पहली बार हमारे इतिहास में नागरिकता धर्म के आधार पर दी जा रही है, इसलिए हम इस कानून का विरोध कर रहे हैं।

कपिल सिब्बल से पहले चिदम्बरम , राहुल गांधी , प्रियंका गांधी सहित कई कांग्रेस नेताओं ने मोदी-शाह को निशाने पर लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here