राहुल गांधी को पुनः पार्टी अध्यक्ष बनाए जाने के लिए तैयारी हुई शुरू , फिर पूरे देश मे सक्रीय दिखेंगे राहुल

0
118
loading...

मई 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद कांग्रेस के तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस्तीफा दे दिया था लेकिन कांग्रेस की युवा ब्रिगेड और राहुल गांधी के करीबी कई नेताओं ने उन्हें पुनः अध्यक्ष पद संभालने के लिए कई बार अपील किया है लगता है इन अपीलों का असर कांग्रेस और राहुल गांधी में भी देखने को मिल रहा है यही कारण है कि कांग्रेस में राहुल गांधी की बतौर राष्ट्रीय अध्यक्ष वापसी की कोशिश शुरू हो गई है

गौरतबल है कि राहुल के करीबी नेता चाहते हैं कि फिर से पूरे देश में उनकी सक्रियता और आक्रामकता दिखाई दे। राहुल की वापसी के पहले एक बार फिर उनकी ब्रांडिग शुरू की जा रही है। इसकी शुरूआत 28 जनवरी को कांग्रेस शासित राज्य राजस्थान से की जा रही है।

दरअसल अमेठी में चुनाव हार जाने के बाद राहुल ने अपने को केरल के नए संसदीय क्षेत्र वायनाड तक सीमित कर लिया था।

दिल्ली रैली के बाद से टीम राहुल उनकी वापसी को लेकर सक्रिय है। इन्हीं नेताओं का दबाव था जिसके चलते सोनिया गांधी को कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया ताकि भवष्यि में राहुल को फिर इस पद के लिए मना लिया जाए।

राहुल दुबारा पार्टी अध्यक्ष पद कब तक स्वीकार करेंगे इसे लेकर कोई तारीख तो तय नहीं है लेकिन उम्मीद है कि बजट सत्र के बाद पार्टी नए अध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया शुरू करेगी। कुछ राज्यों को छोड़कर लगभग सभी जगह सदस्यता अभियान पूरा हो चुका है। राज्यों से राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए प्रतिनिधियों का चयन होने के बाद चुनाव कराए जाएंगे।

यही कारण है कि जयपुर में होने वाली राहुल की रैली को लेकर तैयारी जोर शोर से की जा रही है और इसके लिए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट सहित पूरी प्रदेश कांग्रेस इकाई राहुल की रैली को सफल करने में लगी हुई है। वहीं इसके बाद मध्य प्रदेश , छत्तीसगढ़, पंजाब , केरल , बिहार , उत्तर प्रदेश दिल्ली एवं नॉर्थ ईस्ट सहित कई राज्यों में राहुल की रैली प्रस्तावित है जिसकी तारीख जल्दी ही सामने आ जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here