अमित शाह के वर्चुअल रैली पर कांग्रेस का हमला , कहा बीजेपी ने किया बिहार के जनता का अपमान

0
820

कोरोना वायरस के बढ़ते आंकड़ो के बीच कल बीजेपी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव के प्रचार अभियान की शरूआत कर दी। अमित शाह के इस रैली के बाद विपक्षी पार्टीयो ने एकसुर में बीजेपी पर हमला बोला।

कांग्रेस ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि जब इस समय पूरा देश कोरोना वायरस महामारी से जंग लड़ रहा है तब ऐसे समय पर भाजपा धन बल की राजनीति कर रही है। साथ ही कांग्रेस ने गृह मंत्री अमित शाह की ‘वर्चुअल रैली’ को लेकर कहा कि भाजपा ने ऐसे समय पर रैली कर बिहार की जनता का अपमान किया है।

गौरतलब है कि केंद्रीय गृह मंत्री व भाजपा नेता अमित शाह ने बिहार विधानसभा चुनाव के लिए शंखनाद करते हुए चुनाव से कुछ महीनों पहले इंटरनेट और प्रसारण माध्यमों का इस्तेमाल कर अपनी तरह की पहली ‘वर्चुअल रैली’ की। इस दौरान उन्होंने दिल्ली से बिहार की जनता को संबोधित करते हुए कहा कि राजग सरकार के कार्यकाल में राज्य ”जंगल राज” से निकलकर ”जनता के राज” में आ गया है।

जिसके बाद कांग्रेस नेता तथा पूर्व केन्द्रीय मंत्री अखिलेश प्रसाद सिंह ने कहा कि शाह ऐसे समय में राजनीति को ध्यान में रखकर रैली कर रहे हैं जब बिहार के लोग कोरोना वायरस के चलते मर रहे हैं। इसके अलावा राज्य के कई लोग देश के अलग-अलग हिस्सों में फंसे हुए हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा ने आभासी रैली पर 100 करोड़ रुपये खर्च किये हैं। इसके लिये लोगों को एक लाख मोबाइल फोन बांटे गए हैं। कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य सिंह ने कहा कि एक ओर केन्द्र सरकार के पास प्रवासी कामगारों को उनके घर भेजने या उन्हें भोजन मुहैया कराने के लिये पैसा नहीं हैं। वहीं दूसरी ओर भाजपा राजनीतिक रैलियों पर पैसा बहा रही है।

सिंह ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से मीडिया को सम्बोधित करते हुए कहा, ”ऐसे समय में जब देश कोविड-19 से जंग लड़ रहा है, भाजपा रैलियां करने में व्यस्त है। वह धन बल का इस्तेमाल कर बिहार की जनता को लुभाना चाहती है। यह बिहार के लोगों के साथ अन्याय और उनका अपमान है।” उन्होंने कहा, ”भाजपा पैसे की ताकत के आधार पर राजनीति करने की कोशिश कर रही है। लोग उनकी राजनीतिक चालबाजियों को देख रहे हैं। बिहार के लोगों का जिस तरह से अपमान किया गया है, वे उसे याद रखेंगे। वे चुनावों में भाजपा को सबक सिखाएंगे और पार्टी को सत्ता से बाहर कर देंगे।”

इससे पहले कांग्रेस के युवा विंग ने अमित शाह की रैली से पहले काला गुब्बारा के साथ काले कपड़े पर 13 साल तड़पता बिहार लिखकर हवा में उड़ाया और अमित शाह की रैली का पुरजोर विरोध किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here