कांग्रेस ने आक्रामक अंदाज मे सरकार से किये 10 सवाल, वही कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेडा ने गोदी मीडिया समेत बीजेपी प्रवक्ता की बोलती बंद

0
939

जहा केंद्र सरकार को चीन पर मजबूत नीति बनाकर उन्हे करारा जवाब देना चाहिये था वहा सरकार विपक्ष पर ही आरोप प्रत्यारोप लगाकर अपनी नाकामियों पर पर्दा ढकने का काम कर रही है जिस पर कांग्रेस ने भी अब तीखा हमला किया है गौरतलब है कि बीजेपी लगातार राष्ट्रीय सुरक्षा के जुडे मुद्दे पर एक्सपोज हो रही है जिससे उनमे घबराहट है इसे देखते हुए वो अनर्गल आरोप प्रत्यारोप कर रही है जिस पर कांग्रेस ने भी करारा जवाब दिया हैं।

राजीव गांधी फाउंडेशन (आरजीएफ) को लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सोनिया गांधी से 10 सवाल पूछे हैं, जिस पर कांग्रेस पार्टी ने पलटवार किया है और बीजेपी पर 10 सवाल दागे हैं. साथ ही बीजेपी और आरएसएस को मिलने वाली विदेशी फंडिंग पर सवाल उठाए हैं.

कांग्रेस पार्टी ने चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना (सीसीपी) के साथ बीजेपी और आरएसएस के रिश्तों को लेकर भी सवाल पूछा है. इससे पहले शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गांधी परिवार पर जोरदार हमला बोला था और पूछा था कि चीन की तरफ से राजीव गांधी फाउंडेशन को पैसा क्यों दिया गया?

कांग्रेस ने बीजेपी से पूछे ये 10 सवाल

  1. बीजेपी और चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना (सीसीपी) के बीच कौन से ऐतिहासिक रिश्ते हैं? 30 जनवरी 2007 को बीजेपी के तत्कालीन अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने सीसीपी के प्रतिनिधिमंडल के दौरे के समय ऐसा कहा था. इसके बाद राजनाथ सिंह ने 17 अक्टूबर 2008 को सीसीपी के पोलितब्यूरो के सदस्यों के साथ मीटिंग में इसको दोहराया था.
  2. चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना (सीसीपी) के बुलावे पर जनवरी 2009 में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) चीन क्यों गया था? राजनीति पार्टी नहीं होने के बावजूद आरएसएस को चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ने क्यों बुलाया? उस समय आरएसएस की चीन के साथ हमारे संवेदनशील अरुणाचल प्रदेश और तिब्बत पर क्या चर्चा हुई?
  3. चीन की सत्तारूढ़ सीसीपी के बुलावे पर 19 जनवरी 2011 को तत्कालीन बीजेपी के अध्यक्ष नितिन गडकरी पांच दिवसीय दौरे पर चीन क्यों गए थे?
  4. नवंबर 2014 में सीसीपी के ‘द पार्टी स्कूल’ में एक सप्ताह की लंबी स्टडी के लिए तत्कालीन बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने विधायकों और सांसदों का एक प्रतिनिधिमंडल चीन क्यों भेजा था?
  5. नरेंद्र मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री रहने के दौरान चार बार और प्रधानमंत्री बनने के बाद 5 बार चीन का दौरा क्यों किया? इसके अलावा पीएम मोदी ने भारत में चीनी प्रधानमंत्री की तीन बार आवभगत की. क्या नरेंद्र मोदी इकलौते ऐसे पीएम नहीं हैं, जिसने 6 साल में चीन के प्रधानमंत्री से 18 बार मुलाकात की? क्या पीएम मोदी की झूला डिप्लोमेसी काम आई?
  6. जिस तरह राजीव गांधी फाउंडेशन ने किया, क्या बीजेपी उसी तरह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) को सभी डोनर की सूची और विदेशों से मिले पैसे के स्रोत की जानकारी सार्वजनिक करने को कह सकती है?
  7. जिस तरह राजीव गांधी फाउंडेशन ने किया, क्या बीजेपी उसी तरह विवेकानंद फाउंडेशन और इंडिया फाउंडेशन को सभी डोनर (इंटरनेशनल डोनर समेत) की सूची सार्वजनिक करने के लिए कह सकती है?
  8. क्या बीजेपी उन डोनर के नामों को सार्वजनिक कर सकती है, जिससे उसने चुनावी बॉन्ड के जरिए करोड़ों रुपये लिए?
  9. क्या ‘ओवरसीज फ्रेंड्स ऑफ बीजेपी’ को मिलने वाली फंडिंग, कुल पैसा और डोनर के नाम (चीनी मूल के डोनर समेत) का बीजेपी खुलासा कर सकती है? ‘ओवरसीज फ्रेंड्स ऑफ बीजेपी’ ने ‘ओवरसीज फ्रेंड्स ऑफ बीजेपी-चाइना एंड हॉन्गकॉन्ग’ से कब और कितना पैसा लिया? राजकुमार नारायणदास उर्फ राजू सबनानी का ‘ओवरसीज फ्रेंड्स ऑफ बीजेपी’ से क्या कनेक्शन है?
  10. क्या बीजेपी और आरएसएस ने इंटरनेशनल फाउंडेशन, फंड, कंपनी और संस्थाओं से फंड लिया है? अगर हां, तो पिछले 6 साल में बीजेपी और आरएसएस को कितना इंटरनेशनल फंडिंग मिली?

इसके बाद एक टीवी मीडिया के डिबेट शो मे कांग्रेस की तरफ से अपना पक्ष रख रहे पवन खेडा ने भी जबरदस्त तरीके से इस पर बीजेपी प्रवक्ता व आरएसएस प्रचारक को जवाब दिया जिसके बाद से पूरे सोशल मीडिया पर पवन खेडा ने वाहवाही लूटी हैं।

युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी ने ट्वीट कर लिखा कि ” ‘सूप तो सूप अब छलनी भी बोले’

वर्तमान से लेकर भूतकाल का दर्शन करा रहे @Pawankhera जी के सामने आप सिर्फ संघियों के चेहरे देखिए”

कुलमिलाकर कांग्रेस इस मुद्दे पर काफी आक्रामक नजर आ रही है जिससे बीजेपी बैकफुट पर जाती नजर आ रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here