कोरोना संकट के बीच जनता के लिए एक और आफत , सरकार ने लगातार 9वें दिन भी बढ़ाए पेट्रोल-डीजल की कीमत

0
521

कोरोना वायरस के कारण देश में हुए लॉकडाउन से जहां जनता के सामने आर्थिक संकट जैसे हालात बने हुए हैं तो वहीं केंद्र सरकार लगातार पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ाकर जनता की मुश्किलों को बढ़ाने का काम कर रही है दरअसल आज लगातार नौवें दिन फिर पेट्रोल और डीजल के दाम में बढ़ोतरी की गई है।

आज से पेट्रोल के दाम में 0.48 रुपए प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई है, जबकि डीजल के दाम में 0.59 रुपए की बढ़ोतरी की गई है। नई कीमतें लागू होने के बाद दिल्ली में पेट्रोल के दाम 76.26 रुपए प्रति लीटर हो गए हैं, जबकि डीजल के दाम 74.62 पैसे प्रति लीटर हो गए हैं। बता दें कि पिछले 9 दिन से लगातार पेट्रोल और डीजल के दाम में बढ़ोतरी की जा रही है।

गौर करने वाली बात यह है कि कच्चे तेल की कीमतें अपने रिकॉर्ड निचले स्तर पर हैं, बावजूद इसके लगातार 9वें दिन की बढ़ोतरी के बाद पेट्रोल और डीजल की कीमत एक वर्ष के अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच गई है।

रविवार को पेट्रोल के दाम में 62 पैसे और डीजल के दाम में 64 पैसे की बढ़ोतरी की गई थी, जिसके बाद दिल्ली में पेट्रोल और डीजल के दाम 75.78, 74.03 रुपए प्रति लीटर हो गए थे।

पेट्रोल डीजल के लागतार बढ़ती कीमतों ने आम जनता तो दुखी है ही, खास लोगों में भी इसे लेकर नाराजगी है। इससे पहले रविवार को क्रिकेटर हरभजन सिंह ने पेट्रोल डीजल के दामों की लिस्ट शेयर करते हुए लिखा- पेट्रोल डीजल और कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं। हरभजन सिंह ने इसके साथ रोने वाली इमोजी भी लगाई और पोस्ट शेयर किया। वहीं एक आम नागरिक का कहना है कि लॉकडाउन ने पहले ही आर्थिक मुश्‍किलें पैदा कर रखी हैं, ऐसे में पेट्रोल डीजल के बढ़ते दाम ने जेब पर बोझ डाल दिया है।

अगर हम आंकड़ो की बात करें तो पेट्रोल की आधार मूल्य जहां 18 रुपये 49 पैसे है तो वही सरकार द्वारा इस पर 49 रुपये 42 पैसे टैक्स के रूप में लिए जा रहे हैं जबकि 17 रुपये 96 पैसे आधार मूल्य वाली डीजल पर 48 रुपये 49 पैसे टेक्स लिए जा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here