राजस्थान की कांग्रेस सरकार का निर्णय , कोरोना से लड़ने में गुजरात, यूपी , दिल्ली और हरियाणा जैसे पड़ोसी राज्यो की करेगी मदद

0
1107

कोरोना वायरस का संक्रमण देश भर में तेजी से बढ़ता जा रहा है। देश मे इस वायरस से संक्रमित मरीजो की संख्या तीन लाख तीस हजार से अधिक हो गया है। ऐसे में राज्य सरकारें अपने-अपने राज्यों को लेकर चिंतित तो है ही मगर कांग्रेस शासित राजस्थान ने एक नई पहल की है और इस पहल के तहत अब वह अपने पड़ोसी राज्यों का भी सहयोग करेगी।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना टेस्ट करने के मामले में पड़ोसी राज्यों का सहयोग करने का निर्णय लिया है।

सीएम निवास पर एक उच्च स्तरीय बैठक में कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा बैठक के दौरान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कोविड-19 महामारी के इस विकट समय में लोगों का जीवन बचाना ही हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है।

ऐसे में राजस्थान आवश्यकता होने पर पड़ोसी राज्यों उत्तर प्रदेश, दिल्ली, मध्यप्रदेश, पंजाब, हरियाणा एवं गुजरात को 5 हजार टेस्ट प्रतिदिन तक राज्य में करवाने की सुविधा उपलब्ध करवाएगा।

इस दौरान अशोक गहलोत ने कहा कि कोरोना की शुरूआत में हमारी टेस्ट क्षमता शून्य थी, जो अब बढक़र 15 हजार प्रतिदिन से अधिक हो गई है। राजस्थान सरकार तकलीफ के इस समय में कोरोना की जांच के लिए पड़ोसी राज्यों को सहयोग देने के लिए तैयार है।

इससे पहले राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने कहा था कि सरकार हर जिले में कोरोना जांच के लिए लैब स्थापित करने के दिशा में कार्य कर रही है एवं राजस्थान में जल्द ही 25000 से अधिक टेस्ट होने लगेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here