कांग्रेस का अगला अध्यक्ष नॉन गांधी परिवार से ही होना चाहिये – प्रियंका गांधी

0
561

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा अपने भाई राहुल गांधी के पिछले साल दिए गए उस बयान से सहमत हैं, जिसमें उन्होंने कहा था कि नॉन-गांधी कांग्रेस पार्टी का अध्यक्ष होना चाहिए. ‘इंडिया टुमारो: कन्वर्सेशन विद द नेक्स्ट जेनरेशन पॉलिटिकल लीडर्स’ शीर्षक वाली किताब में इस बात का खुलासा हुआ है. ये किताब अमेरिकी शिक्षाविद प्रदीप छिब्बर और हर्ष शाह ने लिखी है.

किताब में प्रियंका गांधी के हवाले से लिखा गया है कांग्रेस का अपना रास्ता होना चाहिए.

प्रियंका गांधी ने किताब के लेखकों के दिए गए इंटरव्यू में कहा कि इस्तीफा पत्र में नहीं बल्कि अन्य सभी जगह उन्होंने कहा है कि हममें से किसी को भी पार्टी का अध्यक्ष नहीं होना चाहिए और मैं उनकी इस बात से पूर्ण रूप से सहमत हूं.

किताब में प्रियंका गांधी ने कहा कि वह भले ही गांधी परिवार से न हो लेकिन वो उनका बॉस होगा. अगर वह कल मुझे कहते हैं कि मुझे तुम्हारी जरूरत उत्तर प्रदेश में नहीं, बल्कि अंडमान व निकोबार में है तो मैं खुशी से वहां चली जाउंगी.

हिन्दुस्तान टाइम्स की ख़बर के मुताबिक इस पर टिप्पणी करते हुए नाम न छापने की शर्त पर कांग्रेस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि प्रियंका गांधी की 15 महीने पहले की टिप्पणी को नए सिरे से साक्षात्कार के रूप में पेश किया जा रहा है. लेखक जुलाई 2019 में प्रियंका गांधी वाड्रा से मिले थे, उन्होंने उसी समय राहुल गांधी से भी बात की थी।

कांग्रेस नेताओं ने रिकॉल किया कि राहुल गांधी ने पिछले साल लोकसभा चुनाव 2019 में हार की जिम्मेदारी लेते हुए कांग्रेस वर्किंग कमेटी के अध्यक्ष इस्तीफे की पेशकश की थी. राहुल गांधी अपने फैसले पर अडिग रहे और अपने इस्तीफे पर अंतिम मुहर लगवाने के बाद पिछले साल 3 जुलाई को अपने समर्थकों को विदाई नोट दिया.

CWC की बैठक में, राहुल गांधी ने दिग्गजों को पार्टी के ऊपर अपने बेटों के “हितों” को रखने की बात कही. साथ ही ये भी कहा कि कुछ नेताओं ने अपने गढ़ से चुनाव भी खो दिया था, क्योंकि उन्होंने तथाकथित तौर पर अगली पीढ़ी के नेताओं की आलोचना की थी.

हाल ही में कांग्रेस ने 11 अगस्त को संकेत दिया था कि हो सकता है कि राहुल गांधी निकट भविष्य में पार्टी अध्यक्ष के रूप में पदभार संभालने के लिए अनिच्छुक न हो. वहीं पार्टी ने उन्हें राजस्थान संकट को हल करने का भी श्रेय दिया.

एक सवाल के माध्यम से जब कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला को याद दिलाया गया कि राहुल ने अध्यक्ष पद संभालने से मना कर दिया था, तो इस पर उन्होंने कहा, “मुझे नहीं लगता कि मैं या आप या हम में से किसी ने हाल ही में उनसे (राहुल गांधी) इस मुद्दे पर बात की है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here