देश मे बढ़ती बेरोजगारी को लेकर राहुल गांधी ने फिर एक बार मोदी सरकार पर निशाना साधा

0
443

देश में लगातार बढ़ती बेरोजगारी, अर्थव्यवस्था की बदहाली को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार केंद्र सरकार पर हमलावर हैं।

राहुल लगातार ट्वीट और वीडियो के माध्यम से केंद्र की मोदी सरकार को निशाने पर ले रहे हैं और इस संकट के लिए पूरी तरह से मोदी सरकार को जिम्मेवार ठहरा रहे हैं।

राहुल गांधी ने फिर आज ट्विटर पर एक वीडियो जारी करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी अपने कुछ मित्रों की ही बात सुनते हैं और उन्हीं का विकास करते हैं. सरकार की नीतियों से करोड़ों लोग बेरोजगार हो गए हैं, और जीडीपी में भी ऐतिहासिक गिरावट आई है. सरकार की नीतियों ने भारत के युवाओं के भविष्य को कुचल दिया है.

राहुल गांधी ने कहा कि ‘कोरोना आने से पहले मैंने फरवरी में कहा था तूफान आने वाला है तैयारी कीजिए लेकिन सरकार ने मेरा मजाक उड़ाया. जब तूफान आया मैंने फिर सुझाव दिए कि युवाओं के भविष्य के लिए तीन काम करने होंगे.

न्याय योजना’ जैसी स्कीम लाइए, जो स्मॉल मीडियम इंडस्ट्री है, वह हमारी रीड की हड्डी है उसकी रक्षा करिए , उनकी मदद करिए और स्ट्रेटेजिक इंडस्ट्रीज को संभालिए, लेकिन सरकार ने कुछ नहीं किया।

नरेंद्र मोदी जी के चुने हुए 15-20 दोस्तों का लाखों, करोड़ रुपए कर्जा माफ किया गया और टैक्स रिबेट दिया. इसके साथ ही राहुल गांधी ने कहा कि आज मैं प्रधानमंत्री जी से कहना चाहता हूं कि हिंदुस्तान का युवा आपकी ओर देख रहा है. आपने हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था को नष्ट कर दिया, आपने युवाओं का भविष्य बिगाड़ दिया।

राहुल गांधी ने सपीक अप फॉर जॉब अभियान के तहत अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो जारी किया है जिसमें कहा गया है कि ‘कोरोना माहामारी में बिना सोचे समझे किए गए लॉकडाउन के कारण देश की अर्थव्यवस्था को काफी नुकसान हुआ है. जीडीपी में 23.9 फीसदी की गिरावट आई है, लाखों लोगों की नौकरियां जा चुकी हैं. छोटे मध्यम व्यापार तबाह हो चुके हैं. देश के लोगों की ओर से हम सहायता की मांग करते हैं। केंद्र सरकार बेरोजगार युवाओं, गरीब परिवारों को तुरंत न्याय दे. एक साल के लिए हर माह छह हजार रुपए दे, सार्वजनिक उपकरणों का निजीकरण और नौकरियों में कटौती करना बंद करे. केंद्र सरकार के 10 लाख से अधिक खाली पड़े पदों को जल्द भरा जाए. भाजपा सरकार को रोजगार के अवसरों को बढ़ाने के लिए अपनी नीतियों में संशोधन करना चाहिए और लघु और मध्यक्ष उद्यमों का समर्थन करना चाहिए।

राहुल गांधी के साथ साथ इस अभियान में कांग्रेस के कई नेताओं ने अपने वीडियो जारी कर केंद्र सरकार पर हमला बोला और देश में बढ़ती बेरोजगारी को लेकर अपना आक्रोश व्यक्त किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here