छत्तीसगढ़ में सुरक्षाबलों की बड़ी सफलता, नक्सली हमलों के आरोपी 5 नक्सलियों को किया गिरफ्तार

0
236

छत्तीसगढ़ उन राज्यों में शुमार है जहां नक्सली हमले आमजनों को परेशान करते आ रहे हैं। खासतौर पर सुकमा जिला नक्सली हमलों को लेकर काफी चर्चा में रहा है। ऐसे में राज्य सरकार एवं सीआरपीएफ के लिए हमेशा चुनौती का विषय बना रहता है।

लेकिन पिछले कुछ समय से लगातार छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के खिलाफ ऑपरेशन चलाया जा रहा है। जिससे नक्सली हमले कम होते हुए नजर आ रहे हैं। इसी बीच नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में सुरक्षाबलों ने पांच नक्सलियों को गिरफ्तार किया है।

इन नक्सलियों पर किस्टाराम क्षेत्र में बारूदी सुरंग लगाने का आरोप है जिसमें पिछले दिनों हुए विस्फोट में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के डिप्टी कमांडेंट शहीद हो गए थे।

सुकमा जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि किस्टाराम थाना क्षेत्र में नक्सली गतिविधि की सूचना के बाद शुक्रवार को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की 208 कोबरा बटालियन, सीआरपीएफ और जिला बल के संयुक्त दल को गश्त पर रवाना किया गया था. उन्होंने बताया कि दल जब कासाराम गांव के जंगल में था तभी तीन संदिग्ध व्यक्ति पुलिस दल को देखकर भागने लगे जिन्हें पुलिस दल ने घेराबंदी कर पकड़ लिया।

अधिकारियों ने कहा कि पुलिस दल ने उनसे पूछताछ की तो उन्होंने अपना नाम कोमराम (20), सोढ़ी गंगा (40) और माड़वी देवा (35) बताया जो जनमिलिशिया सदस्य हैं.

उन्होंने बताया कि नक्सलियों ने पूछताछ में कहा कि उन्होंने अपने दो साथियों को तिंगनपल्ली गांव के पास पुलिस की टोह लेने तथा जंगल में विस्फोटक पदार्थ छिपाने के लिए भेजा है. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि नक्सलियों से पूछताछ के बाद पुलिस दल को तिंगनपल्ली गांव की ओर भेजा गया तथा दो नक्सलियों माड़वी गंगा (24) और माड़वी दुधवा (20 वर्ष) को गिरफ्तार कर लिया गया. उन्होंने बताया कि पुलिस ने नक्सलियों से कासाराम के जंगल से कोर्डेक्स वायर, जिलेटिन रॉड, इलेक्ट्रिक डेटोनेटर, आईईडी कन्टेनर, कुकर, टिफिन, विद्युत तार और बैटरी बरामद की है।

पुलिस अधिकारियों ने कहा कि गिरफ्तार नक्सलियों ने खुलासा किया कि उन्होंने कासाराम गांव के जंगल में इस महीने की 13 तारीख को बारूदी सुरंग लगाई थी. उन्होंने कहा कि इसी बारूदी सुरंग में हुए विस्फोट में कोबरा बटालियन के डिप्टी कमांडेंट विकास कुमार घायल हो गए थे और बाद में इलाज के दौरान उनकी मृत्यु हो गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here