कृषि बिल पर सचिन पायलट का आक्रमक तेवर, कहा केंद्र जिद नहीं छोड़ेगा तो इलाज भी करना पड़ेगा

0
631

केंद्र सरकार के विवादित कृषि बिलों पर किसानों के आंदोलन के बीच कांग्रेस ने कृषि बिल और पेट्रोल- डीजल की बढ़ी कीमतों के खिलाफ राजस्थान के राजधानी जयपुर में धरना दिया।

इस धरने में पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट और पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा समेत राज्य सरकार के कई मंत्री और हजारों कार्यकर्ता शामिल हुये। धरने में कांग्रेस नेताओं ने केन्द्र सरकार पर जमकर हमला बोला।

किसानों के समर्थन में आज कांग्रेस ने किसान अधिकार दिवस मनाने का ऐलान किया था। इस मौके पर आयोजित धरने को संबोधित करते हुये सचिन पायलट ने कहा कि जिस मुद्दे पर आज पूरा देश विचलित है उसी मुद्दे पर हमारा धरना है. केन्द्र ने जबर्दस्ती कृषि बिल बनाकर लागू किये हैं. धरातल पर रहने वाले किसान की बात को अनसुना किया जा रहा है. सुप्रीम कोर्ट ने जो टिपण्णी की वो गंभीर है. इतने दौर की वार्ता कर रहे हैं. लेकिन अब यह साफ हो गया है कि केन्द्र सरकार अड़ियल है. पायलट ने कहा कि हम किसानों के साथ खड़े हैं।

पायलट ने कहा कि किसानों को माओवादी बताया जा रहा है. कांग्रेस इन सबको बर्दाश्त नहीं करने वाली है. आज कोई चुनाव नहीं है, लेकिन हमें जागरुक होने के नाते किसान के साथ खड़ा होना है. पायलट ने कहा कि केंद्र जिद नहीं छोड़ेगा तो इलाज भी करना पड़ेगा. सरकारें आएंगी और जाएंगी लेकिन किसान विरोधी इन कानूनों को वापस नहीं करवाया तो आने वाली पीढियां माफ नहीं करेंगी.किसान की बात सुनने के लिए सरकार बनाई थी, मन की बात सुनने के लिए नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here