वायनाड में राहुल गांधी ने कहा गोडसे और मोदी की विचारधारा एक

0
271

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि के अवसर पर आज कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड में हैं। इस अवसर पर वह जहां एक तरफ संविधान बचाओ मार्च की अगुवाई किया तो वहीं दूसरी तरफ एक रैली को भी संबोधित किया। उन्होंने इस रैली में बापू के हत्यारे गोडसे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाने पर लिया।

राहुल गांधी ने कहा कि महात्मा गांधी की हत्या करने वाला ​​नाथूराम गोडसे और पीएम नरेंद्र मोदी एक ही विचारधारा में विश्वास करते हैं, उनमें कोई अंतर नहीं है। राहुल ने यहां कहा कि जैसे गोडसे के भीतर नफरत ही नफरत भरी थी, उसी तरह नरेंद्र के भीतर भी नफरत भरी हुई है। राहुल ने कहा जो लोग गोडसे के साथ थे वही लोग मोदी के साथ भी हैं।

नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए राहुल ने कहा, गोडसे और मोदी की विचारधारा में सिर्फ एक फर्क है और वे यो ​कि नरेंद्र मोदी को यह कहने की हिम्मत नहीं है कि वह गोडसे में विश्वास करते हैं।

गोडसे ने गांधी जी को मारा क्योंकि उसे ना खुद में भरोसा था और ना ही वो किसी से प्यार करता था। बिल्कुल यही पीएम के साथ भी है। तरह ही नफरत से भरे प्रधानमंत्री मोदी को किसी की परवाह नहीं वो सिर्फ खुद से प्यार करते हैं।

राहुल गांधी ने कहा कि आज (30 जनवरी) की तारीख में ही 1948 में नाथूराम गोडसे ने महात्मा गांधी की हत्या की थी। गोडसे की सोच से देश को बचाने की जरूरत है। जिस तरह से हम गोडसे की विचारधारा से लड़े ठीक वैसे ही हमे इस आदमी (नरेंद्र मोदी) की विचारधारा से भी लड़ना है। सभा से पहले राहुल गांधी ने अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड के कलपेटा इलाके में ‘संविधान बचाओ’ मार्च का नेतृत्व भी किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here