राजस्थान पंचायत चुनाव में कांग्रेस का दबदबा, भाजपा काफी पीछे

0
1369

हैदराबाद में हुए म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन की चुनाव के बाद अब लोगो की नजर राजस्थान में हो रहे पँचायत चुनाव पर टिकी हुई है जिसका नतीजा आज आ रहा है।

21 जिलों में हुए पंचातय चुनावों के परिणाम घोषित होना शुरू हो गए हैं। अब तक के नतीजों के मुताबिक, जिला परिषद सदस्य की मतगणना में अब तक कांग्रेस 10 और भाजपा ने 3 सीट जीती है। वहीं पंचायत समिति सदस्य के चुनाव परिणाम में 59 सीटों पर कांग्रेस, 27 पर भाजपा और 7 सीटों पर अन्य का कब्जा हुआ है। उदयपुर जिले में 9 पंचायत समिति सदस्यों पर कांग्रेस, 3 पर भाजपा प्रत्याशी आगे चल रहे हैं।

राजस्थान के सीमावर्ती जैसलमेर जिले में 1 पंचायत समिति सीट कांग्रेस ने जीत ली है। 1 सीट पर कांग्रेस, भाजपा व निर्दलीय में कड़ा मुकाबला चल रहा है। सीकर,राजसमंद, प्रतापगढ़, उदयपुर,अजमेर,बांसवाड़ा, भीलवाड़ा ,चित्तौड़गढ़, नागौर, नबीकानेर, बूंदी, चुरू, हनुमानगढ़, टोंक,झुंझुनूं, जैसलमेर, जालोर,पाली आदि 21 जिलों के जिला परिषद सदस्यों व पंचायत समिति सदस्यों की मतगणना हो रही है।

किसानों द्वारा बुलाए गए भारत बंद के तहत अतिरिक्त सुरक्षा के बीच मतणना हो रही है। उम्मीद है कि शाम तक सभी 636 जिला परिषद सदस्यों और 4,371 पंचायत समिति सदस्यों की घोषणा हो जाएगी।

हर बार तरह यहां मुख्य मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के बीच है। इन चुनावों के लिए चार चरण में वोटिंग हुई थी। 23 नवंबर, 27 नवंबर, 1 दिसंबर और 5 दिसंबर।

इन चुनाव परिणाम से यह साफ होगा कि राजस्थान के ग्रामीण इलाकों में भाजपा और कांग्रेस, में से किसका दबदबा है। वैसे भी राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार आरोप लगाती रही है कि भाजपा उसकी सरकार को गिराने की लगातार कोशिश कर रही है। इस तरह यहां जो भी पार्टी ज्यादा सीट जीतेगी, वह अपनी आवाज बुलंद करेगी।

अब तक के परिणाम में कांग्रेस का दबदबा दिख रहा है और भाजपा पिछड़ती हुई नजर आ रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here