राजस्थान में कांग्रेस का बजा डंका: 48 निकाय पर कांग्रेस ने फहराया परचम , बीजेपी 25 पर सिमटी

राजस्थान का निकाय चुनाव अशोक गहलोत सरकार ,कांग्रेस के नए प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासर और प्रदेश प्रभारी अजय माकन के लिए कहीं न कहीं एक बड़ा परीक्षा था क्योंकि सचिन पायलट के नाराजगी के बाद यह पहला चुनाव था इसीलिए यह नए प्रदेश अध्यक्ष और नए प्रदेश प्रभारी के लिए खुद को साबित करने का एक बड़ा मौका था।

दरसल राजस्थान के 20 जिलों के 90 निकायों में प्रमुख पद के लिए हुए मतदान के परिणाम आ गए हैं। इन परिणामों के मुताबिक कांग्रेस ने बाजी मारी है।

कांग्रेस ने 48, और बीजेपी (BJP) ने 37 सीटों पर जीत हासिल की. वहीं निर्दलीय को 3, एनसीपी को एक और आरएलपी को एक सीट पर जीत हासिल हुई है। 90 निकायों में से 3 पर निर्विरोध चुनाव हुआ था।

हालांकि कांग्रेस ने 50 से ज्यादा निकायों में अपने प्रमुख बनाने का किया था। क्योंकि जिन तीन निकायों में निर्दलीयों का बोर्ड बना है. उनमे से 2 जगहों पर कांग्रेस समर्थित बोर्ड बताया जा रहा है।

यही कारण है कि प्रदेश प्रभारी अजय माकन ने 48 प्लस दो सीटों पर कांग्रेस की जीत गिनाई है।

बता दें कि इस निकाय चुनाव के लिए सीएम अशोक गहलोत के निर्देश पर कई मंत्री और विधायकों ने मोर्चा संभाल रखा था. जबकि भाजपा ने भी अपनी पूरी ताकत झोंक दी थी. पिछली बार इन 90 निकायों में से 60 में भाजपा और 25 में कांग्रेस काबिज थी। लेकिन इस बार बाजी उलट गई है और कांग्रेस 48 निकायों में अपना बोर्ड बनाने में कामयाब हुई है. इस बार वार्ड पार्षद के चुनाव नतीजों में कांग्रेस के पास 19 और भाजपा के पास 25 निकायों में अपना बोर्ड बनाने के लिए पूर्ण बहुमत था. जबकि करीब 46 निकाय ऐसे थे जहां निर्दलीय निर्णायक भूमिका में थे।

केकड़ी नगर पालिका, सरवाड़ नगर पालिका, गुलाबपुरा नगर पालिका, देशनोक नगर पालिका, बूंदी नगर परिषद, लाखेरी नगर पालिका, केशोरायपाटन नगर पालिका, नैनवां नगर पालिका, कापरेन नगर पालिका, इन्द्रगढ़ नगर पालिका, बड़ी सादड़ी नगर पालिका, बेंगू नगर पालिका, राजलदेसर नगर पालिका, रतनगढ़ नगर पालिका, सरदारशहर नगर पालिका, सुजानगढ़ नगर परिषद, तारानगर नगर पालिका, सागवाड़ा नगर पालिका, संगरिया नगर पालिका, पीलीबंगा नगर पालिका, रावतसर नगर पालिका, नोहर नगर पालिका, भादरा नगर पालिका, सांचौर नगर पालिका, भवानीमंडी नगर पालिका, अकलेरा नगर पालिका, खेतड़ी नगर पालिका, मंडावा नगर पालिका, उदयपुरवाटी नगर पालिका, मुकुंदगढ़ नगर पालिका, नवलगढ़ नगर पालिका, चिड़ावा नगर पालिका, डेगाना नगर पालिका, कुचामनसिटी नगर पालिका, कुचेरा नगर पालिका, लाडनूं नगर पालिका, मेड़तासिटी नगर पालिका, छोटी सादड़ी नगर पालिका, राजसमन्द नगर परिषद, फतेहपुर शेखावाटी नगर पालिका, लक्ष्मणगढ़ नगर पालिका, रामगढ़ शेखावाटी नगर पालिका, खण्डेला नगर पालिका, रींगस नगर पालिका, लोसल नगर पालिका, देवली नगर पालिका, उनियारा नगर पालिका और सलूम्बर नगर पालिका में कांग्रेस ने बाजी मारी है।

राजस्थान के 20 जिलों के 90 निकायों की 3,334 साटों पर हुए चुनाव के परिणाम 31 जनवरी को घोषित किए गए थे. इस परिणाम के मुताबिक बीजेपी को 24 निकायों में पूर्ण बहुमत और कांग्रेस को 19 निकायों में पूर्ण बहुमत मिला था. पांच निकायों में दोनों दल बरारबी पर थे, और निर्दलीय पूर्ण बहुमत में थे. इस चुनाव में 29 लाख वोटर थे, जिनमें से 22 लाख ने वोट डाले थे. इनमें से 7,85,282 वोट कांग्रेस मिले, जबकि 7,65,363 वोट बीजेपी को मिले थे. 6,87,219 वोट निर्दलीय उम्मीदवारों को मिले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here