युवाओं को सम्बोधित करते हुए राहुल गांधी ने सिंधिया के लिए कही ये बात

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़ बीजेपी में जाने के करीब 1 साल बाद बड़ा बयान दिया है

राहुल गांधी ने सोमवार को कहा कि सिंधिया अगर पार्टी में होते तो संभवत: मुख्यमंत्री बनते लेकिन बीजेपी में जाने के बाद उन्हें ‘पीछे की सीट’ मिल गई है।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार बंद दरवाजे में हुई यूथ कांग्रेस की मीटिंग में मौजूद लोगों ने बताया कि राहुल गांधी ने सिंधिया का जिक्र किया था।

लेकिन यूथ कांग्रेस अध्यक्ष श्रीनिवास बी. वी ने कहा कि राहुल ने ऐसी कोई टिप्पणी नहीं की।

उन्होंने कहा कि राहुल ने किसी का नाम नहीं लिया। श्रीनिवास ने कहा ‘उन्होंने हमसे केवल कड़ी मेहनत करने को कहा और कहा कि इन बातों को लेकर चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है कि कौन पार्टी में आ रहा है या कौन छोड़कर जा रहा है…उन्होंने हमसे बिना डरे बीजेपी और आरएसएस से लड़ने को कहा।’

हालांकि, सूत्रों के अनुसार राहुल ने धैर्य और कांग्रेस संगठन की बात करते हुए सिंधिया का नाम लिया। उन्होंने कहा कि सिंधिया अगर पार्टी में रहते तो मुख्यमंत्री बन सकते थे। बताया जा रहा है कि राहुल ने ये भी कहा कि सिंधिया को बीजेपी कभी मुख्यमंत्री नहीं बनाएगी और वे अब बस वहां एक बैंकबेंचर बन कर रह गए हैं।

गौरतलब है कि पिछले साल सिंधिया 11 मार्च 2020 को बीजेपी में शामिल हो गए थे। इसके साथ सिंधिया खेमे के 20 से अधिक विधायकों ने भी कांग्रेस का साथ छोड़ दिया था। इसके बाद राज्य में कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस की सरकार गिर गई थी और बीजेपी सत्ता में वापस आई। वहीं, जून में बीजेपी के टिकट पर सिंधिया राज्यसभा के सदस्य चुन लिए गए।

सिंधिया के कांग्रेस छोड़ बीजेपी में जाने पर राहुल गांधी ने तब कहा था कि सिंधिया के लिए मेरे दरवाजे हमेशा खुले थे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here