तेल के बढ़े कीमतों के खिलाफ 11 जून को कांग्रेस का केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन

0
1400

पेट्रोल-डीजल के दामों में हो रही बेतहाशा वृद्धि के कारण देश में महंगाई लगातार बढ़ रही है। जिससे आम जनों का जनजीवन पूरी तरह से प्रभावित हो रहा है। जिससे देशभर में आम जनता गुस्से में है। इसी बेतहाशा वृद्धि के विरोध में कांग्रेस 11 जून को केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेगी।

कांग्रेस शुक्रवार को देशभर में विरोध प्रदर्शन कर सरकार से बढ़े हुए दामों को तत्काल वापस लेने की मांग करेगी।

कांग्रेस महासचिव-संगठन केसी वेणुगोपाल ने एक बयान में बताया कि पार्टी कार्यकर्त्ता 11 जून को पूरे देश में पेट्रोल पंपों के सामने प्रतिकात्मक विरोध प्रदर्शन करेंगे और पेट्रोल-डीजल-रसोई गैस के मूल्य में अभूतपूर्व वृद्धि, आर्थिक मंदी, बढ़ती बेरोजगारी और सभी जरुरी वस्तुओं की आसमान छूती कीमतों से हो रही दिक्कतों की तरफ सरकार का ध्यान आकर्षित करेंगे।

वेणुगोपाल ने कहा कि इस दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का भी खास ध्यान रखा जाएगा। प्रदर्शन के समय जनसभाएं आयोजित नहीं होंगी और पार्टी कार्यकर्त्ता प्रदर्शन के समय मास्क पहनने, सोशल डिस्टेसिंग जैसे नियमो का कड़ाई से पालन करेंगे। वेणुगोपाल ने कहा कि केंद्र सरकार की गलत नीतियों के कारण देश के लोग पिछले 15 महीनों से covid-19 की मार से जूझ रहे हैं। लोगो को सही समय पर दवाई और स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं मिल रही हैं और दूसरी तरफ गिरती अर्थव्यवस्था और घटते रोजगार से भी लोग बहुत परेशान है।

दरसल पिछले काफी समय से पेट्रोल-डीजल की कीमतें आसमान छू रही हैं। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पेट्रोल और डीजल कीमत क्रमश: 95.56 रुपए और 86.47 रुपए प्रति लीटर पर अपरिवर्तित रही।

गत 4 मई से अब तक 21 दिन पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाए गए हैं जबकि शेष 17 दिन कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया गया है। इस दौरान दिल्ली में पेट्रोल 5.16 रुपए तथा डीजल 5.74 रुपए महंगा हो चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here