राहुल गांधी के नेतृत्व में लखीमपुर हिंसा मामले में राष्ट्रपति से मिला कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल, कांग्रेस ने राष्ट्रपति से समक्ष रखी दो मांग

0
775

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और लोकसभा सांसद राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने लखीमपुर खीरी हिंसा के मामले को लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की। कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा की बर्खास्तगी के साथ राष्ट्रपति के समक्ष अपनी दो मांगे रखी।

प्रतिनिधिमंडल में राहुल गांधी के अलावा राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी पूर्व केंद्रीय मंत्री ए.के. एंटोनी और पूर्व केंद्रीय मंत्री गुलाम नबी आजाद भी शामिल थे।

राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद राहुल ने संवादददाताओं से बातचीत में कहा कि हमने राष्ट्रपति से कहा कि आरोपी के पिता जो गृह राज्य मंत्री हैं, को पद से हटा देना चाहिए क्योंकि उनकी मौजूदगी में निष्पक्ष जांच संभव नहीं है। इसी तरह, हमने सुप्रीम कोर्ट के दो मौजूदा जजों से भी जांच कराने की मांग की। लखीमपुर खीरी में पीड़ित परिवारों की मांग है कि जिसने भी उनके बेटे की हत्या की है उसे सज़ा मिले।

प्रियंका गांधी ने कहा कि राष्ट्रपति ने हमें आश्वासन दिया है कि वह आज ही सरकार से इस मामले पर चर्चा करेंगे।प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा रहे मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, हमने राष्ट्रपति को लखीमपुर खीरी कांड के संबंध में सारी जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि हमारी दो मांगें हैं- मौजूदा जजों से स्वतंत्र जांच होनी चाहिए और गृह राज्य मंत्री (अजय मिश्रा टेनी) को या तो इस्तीफा दे देना चाहिए या बर्खास्त कर देना चाहिए, क्योंकि मामले में न्याय तभी संभव होगा। कांग्रेस लगातार लखीमपुर घटना को लेकर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के इस्तीफे की मांग कर रही है। हाल ही में कांग्रेस ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर मिलने का समय मांगा था।

गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी जिले में तीन अक्टूबर को उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य द्वारा केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के पैतृक गांव के दौरे के विरोध को लेकर भड़की हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले में मिश्रा के बेटे आशीष समेत कई लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। आशीष को शनिवार को गिरफ्तार कर लिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here