राहुल गांधी की दो मांगो से बढा बीजेपी का सिरदर्द, गुजरात मे पड़ सकता है इसका जबरदस्त असर

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान कोविड-19 से हुई मौतों के मुद्दे पर नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधने के लिए नया मोर्चा खोल दिया है।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी कोविड-19 के कारण जान गंवाने परिवारों में से प्रत्येक को मुआवजे की मांग में का नेतृत्व पार्टी की ओर से कर सकते हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार कांग्रेस शीतकालीन सत्र के दौरान भारत में महामारी के दौरान जान गंवाने वाले लोगों के वास्तविक आंकड़े जारी करने की अपनी मांग को नवीनीकृत करेगी।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आज अपने ट्वटिर अकाउंट से वीडियो शेयर किया है। राहुल गांधी के शेयर किए गए वीडियो में कोविड -19 से प्रभावित लोगों को महामारी से निपटने के अपने अनुभव के बारे में बात करते हुए दिखाया गया है। वीडियो में दिखने वाले ज्यादातर लोग गुजरात के हैं।

राहुल गांधी ने वीडियो के कैप्शन में लिखा कि कांग्रेस पार्टी की दो माँग हैं- 1. कोविड मृतकों के सही आंकड़े बताए जायें। 2. अपने प्रियजनों को कोविड में खो चुके परिवारों को चार लाख का हरजाना दिया जाए। सरकार हो तो जनता का दुख दूर करना होगा, हरजाना मिलना चाहिए।

राहुल गांधी ने कोविड, कृषि बिल और किसान आंदोलन के दौरान जिस प्रकार से अपनी बाटन को रखा है उससे राहुल के इस मांग से बीजेपी की सिरदर्द बढ़ गई है क्योंकि इसका असर गुजरात मे जबरदस्त ढंग से पड़ने की संभावना है।

आपको जानकारी के लिए बता दें कि भारत ने 27 जनवरी 2020 को कोविड-19 का पहला मामला सामने आया था। जब चीन के वुहान से लौटने वाले एक मेडिकल छात्र ने का टेस्ट किया गया तो उसकी कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। जबकि साल 2020 में मार्च के महीने की शुरुआत में पहले स्थानीय मामलों का पता चला था।

देश में 12 मार्च को कोविड-19 की वजह से पहली मौत दर्ज की गई थी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार, भारत में बुधवार (24 नवंबर) की सुबह तक 4,66,584 मौतें दर्ज की गई हैं। यह भारत में 3.45 करोड़ से अधिक कोविड -19 मामलों का लगभग 1.35 प्रतिशत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here