पूर्व PM लाल बहादुर शास्त्री के बेटे ने फिर से थामा कांग्रेस का हाथ, प्रियंका से मिलकर की घरवापसी

देश के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के बेटे सुनील शास्त्री ने एक बार फिर कांग्रेस का दामन थामकर घर वापसी की है। सुनील शास्त्री मंगलवार को बीजेपी का साथ छोड़ कांग्रेस में शामिल हो गए। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई।

प्रियंका ने शास्त्री के साथ फोटो ट्वीट करते हुए कहा, “कांग्रेस के एक सिपाही व पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के बेटे सुनील शास्त्री से मिलने के लिए कांग्रेस स्थापना दिवस से बेहतर मौका और क्या हो सकता है। हमने कई मुद्दों पर चर्चा की। हम एक साथ लड़ेंगे और जीतेंगे।”

सुनील शास्त्री बीजेपी के साथ रहे हैं, लेकिन उनकी बैठक कांग्रेस में शामिल होने के उनके झुकाव को इंगित करती है क्योंकि कांग्रेस ललितेश पति त्रिपाठी के बाहर होने के बाद मिर्जापुर विधानसभा क्षेत्र में एक राजनीतिक चेहरे की तलाश है। मिर्जापुर की सीट के लिए कांग्रेस पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय कमला पति त्रिपाठी के बेटे ललितेश पति त्रिपाठी पर भरोसा कर रही थी, जो 2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों से पहले तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए थे।

प्रियंका गांधी बुधवार को उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में एक महिला रैली को संबोधित करने वाली हैं। इस क्षेत्र में समाजवादी पार्टी (सपा) की मजबूत उपस्थिति है। प्रियंका गांधी ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ अभियान को संबोधित करेंगी, जो महिला मतदाताओं के बीच जोर पकड़ रहा है और पार्टी को लगता है कि यह आगामी उत्तर प्रदेश चुनावों में गेमचेंजर हो सकता है।

लालबहादुर शास्त्री के बड़े पुत्र अनिल शास्त्री भी कांग्रेस नेता हैं जबकि उनके पुत्र आदर्श शास्त्री ने भी AAP छोड़कर कांग्रेस में शामिल हो चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here