छत्तीसगढ़ के भिलाई में कांग्रेस की जीत, एक और शहर में बीजेपी की हुई हार

कांग्रेस के नीरज पाल चुने गए भिलाई महापौर, एक और शहर सरकार कांग्रेस के पाले में गया। दिन भर चले हंगामों और रूठने मनाने के दौर के बाद आखिर कांग्रेस के नीरज पाल महापौर चुन लिए गए हैं . विधायक देवेंद्र यादव के करीबी और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के ओएसडी मनीष बंछोर के दोस्त है नीरज पाल।

नीरज पाल 44 वोट पाकर भिलाई निगम के महापौर बने। गिरवर बंटी साहू सभापति बने। कांग्रेस को भिलाई में दोनों पदों पर मिली जीत। बीजेपी में क्रॉस वोटिंग हुई। महेश वर्मा, श्यामसुंदर राव को हार का सामना करना पड़ा। निर्दलीय महापौर प्रत्याशी योगेश साहू को 4 वोट मिला।

आज सुबह पहले 70 पार्षदगणों का शपथ ग्रहण पूरा हुआ। 1,30 बजे से ढाई बजे तक महापौर व सभापति के चुनाव की प्रक्रिया शुरू हुई। जिसमें अपील समिति के अध्यक्ष का भी चयन हुआ। नगर निगम में महापौर और सभापति की सीट आरक्षित थी। इसे देखते हुए यह भी मांग की जा रही थी कि जब सीट सामान्य है तो मेयर और सभापति भी सामान्य होना चाहिए।

इस दौड़ में सुभद्रा सिंह और केशव चौबे का नाम सबसे आगे आ रहा था। लेकिन केशव और सुभद्रा दोनों ही नाम को बड़े नेता मेयर के लिए नहीं लाना चाहते थे। इसलिए सामान्य सीट के लिए सामान्य मेयर वाली बात को हवा नहीं दी जा रही थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here