हैदराबाद की उस्मानिया यूनिवर्सिटी ने राहुल गांधी को कैंपस विजिट करने से रोक दिया है।

तेलंगाना में कांग्रेस और टीआरएस वायनाड संसद राहुल गांधी के एक दौरे को लेकर आमने सामने आ गए हैं। हैदराबाद की उस्मानिया यूनिवर्सिटी ने राहुल गांधी को कैंपस विजिट करने से रोक दिया है। कांग्रेस ने टीआरएस पर राजनीति करने का आरोप लगाया है।

हालांकि विश्वविद्यालय ने लिखित रूप में आयोजकों को अपने निर्णय के बारे में सूचित नहीं किया है, लेकिन ओयू कार्यकारी परिषद के कथित रूप से इनकार करने के बाद राजनीतिक उथल-पुथल मच गई है। कांग्रेस ने तेलंगाना राष्ट्र समिति के नेतृत्व वाली राज्य सरकार पर आरोप लगाया है कि उसने राहुल गांधी की यात्रा को रोकने के लिए संस्थान पर दवाब डाला है। वहीं इसे लेकर कुछ छात्र तेलंगाना हाईकोर्ट भी चले गए हैं, जिसमें उन्होंने मांग की है कि राहुल गांधी को दौरे की अनुमति दी जाए।

कांग्रेस की ओर से बताया गया कि उनकी तरफ से 23 अप्रैल को होने वाले कार्यक्रम के लिए अनुमति के लिए आवेदन किया था, जिसमें कहा गया था कि यह यात्रा गैर-राजनीतिक होगी।

मेदक जिले के संगारेड्डी से कांग्रेस विधायक जग्गा रेड्डी ने राज्य सरकार पर राहुल गांधी की उस्मानिया यात्रा को रोकने के लिए ओयू पर दबाव बनाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा- “ओयू हमेशा तेलंगाना आंदोलन सहित छात्र आंदोलनों के लिए जाना जाता है। हमने स्पष्ट किया कि हमारे नेता की यात्रा गैर-राजनीतिक है लेकिन उन्होंने इसकी अनुमति नहीं देने का मन बना लिया है।

पूर्व राज्यसभा सांसद वी हनुमंत राव ने भी विश्वविद्यालय और राज्य सरकार की आलोचना की है। राहुल गांधी का 6 मई को वारंगल के निकट हनमकोंडा में एक जनसभा को संबोधित करने और करीमनगर जाने का कार्यक्रम है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here