हरियाणा में पार्टी के खिलाफ जाकर क्रॉस वोट करने वाले कुलदीप बिश्नोई पर कारवाई के तैयारी में कांग्रेस !

हरियाणा में राज्यसभा चुनाव के दौरान क्रॉस वोटिंग करने वाले कुलदीप बिश्नोई को कांग्रेस ने पार्टी से सस्पेंड करने का फैसला किया है। सूत्रों के मुताबिक, बिश्नोई की CWC की सदस्यता भी खत्म कर दी जाएगी।

इसके अलावा, कांग्रेस आलाकमान की ओर से उनकी विधानसभा से सदस्यता रद्द कराने के लिए अध्यक्ष को पत्र भी लिखा जाएगा।

क्रॉस वोट करने के बाद बिश्नोई ने आज सुबह ट्वीट करके इशारों-इशारों में कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने लिखा, “फन कुचलने का हुनर आता है मुझे, सांप के खौफ से जंगल नही छोड़ा करते।” इसके कुछ देर बाद एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा कि सही वक्त पर लिया गया फैसला ही इंसान को औरों से अलग करता है।

कांग्रेस को झटका देते हुए भाजपा के कृष्ण लाल पंवार और पार्टी के समर्थन वाले निर्दलीय उम्मीदवार कार्तिकेय शर्मा ने हरियाणा से राज्यसभा की दो सीटों पर जीत दर्ज की। निर्वाचन आयोग ने शुक्रवार देर रात दोनों की जीत की घोषणा की। चुनाव नियमों के उल्लंघन के आरोपों को लेकर मतगणना सात घंटे से अधिक देरी से शुरू हुई और देर रात दो बजे नतीजों की घोषणा की गई।

निर्वाचन आयोग के अधिकारियों ने बताया कि वरिष्ठ कांग्रेस नेता अजय माकन को पर्याप्त वोट नहीं मिले। अधिकारी आरके नंदल ने बताया कि पंवार को 36 वोट मिले, जबकि शर्मा के खाते में प्रथम वरीयता के 23 मत गए और 6.6 वोट भाजपा से स्थानांतरित होकर आए, जिससे उनके मतों की कुल संख्या 29.6 हो गई। कांटे की टक्कर वाले इस मुकाबले में माकन को 29 वोट हासिल हुए, लेकिन दूसरी वरीयता का कोई वोट न होने के कारण वह हार गए।


कांग्रेस विधायक और पार्टी के अधिकृत मतदान एजेंट बीबी बत्रा ने बताया कि पार्टी के कुलदीप बिश्नोई ने मीडिया कारोबारी शर्मा के लिए ‘क्रॉस वोटिंग’ की, जबकि एक अन्य विधायक के वोट को अमान्य घोषित कर दिया गया। निर्दलीय उम्मीदवार शर्मा को भाजपा और उसके सहयोगी दल जजपा का समर्थन हासिल था। दोनों उम्मीदवारों को देर रात करीब साढ़े तीन बजे विजेता प्रमाणपत्र दिए गए। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने उन्हें बधाई दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here