राजस्थान मे भाजपा की हालत बेहद खराब होती जा रही है प्रदेश मे हडतालों का दौर जारी हैं

– पिछले 15 दिन से सरकारी बसे एक जगह पर रुकी पडी हैं
– कल शिक्षक अपनी मांग को लेकर आंदोलन कर रहे थे उन पर इस सरकार ने लाठीचार्ज किया
– बिजली कर्मचारी अपनी मांगौ पर अडे हुए हैं
– रोजगार के लिये युवाओ मे निराशा हैं
– मेडिकल स्टोर वाले आक्रोशित है

राजस्थान का हर वर्ग आक्रोश मे है गुस्से मे है सरकार कुछ कर नही रही है आचार संहिता कभी भी लग सकता है लेकिन अभी तक फर्जी विकास पर महारानी गौरव कर रही हैं

हाल ही में भाजपा संगठन मारवाड की रीढ़ माने जाने वाले मानवेंद्र सिंह ने बीजेपी छोडने का ऐलान किया है जो कभी भी कांग्रेस ज्वाइन कर सकते हैं

वही अमित शाह की रैलियो मे भीड न होना, वसुंधरा का जगह जगह विरोध होना बताता है कि राजस्थान भाजपा से मुक्ति चाहता है

अभी एक आंतरिक सर्वे मे पाया कि भाजपा राजस्थान मे 35 सीटो तक सिमट सकती है ये सर्वे आरएसएस ने किया है जमीनी हकीकत के अनुसार ये सर्वे एकदम सही हैं

कांग्रेस ने भी भाजपा को अपने जाल मे जबरदस्त फंसाया है कांग्रेस एकजुट तरीके से भाजपा को एक्सपोज कर रही हैं

शेखावटी मे रामेश्वर डूडी, मेवाड मे सीपी जोशी तो मारवाड में गहलोत इस सरकार की पोल खोल रहे हैं वही पायलट और चांदना भी प्रदेश भर जाकर कांग्रेस की सरकार बनाने का आह्वान कर रहे हैं

अशोक गहलोत के पास दुगुनी जिम्मेदारी है फिर भी वो बखूबी अदा कर रहे हैं

आरएसएस के सर्वे मे पाया कि अभी तक वसुंधरा का जनता मे आक्रोश तथा विरोध था लेकिन अब मोदी को भी जनता नकारने लगी है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here