कांग्रेस का मोदी सरकार पर हमला तेज गुलाम नबी आजाद ने मोदी सरकार को बर्खास्त करने की मांग की

आज कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद मे प्रेस कांफ्रेस करते हुए कहा कि सरकार रॉफेल डील की सच्चाई को दबा रही है सुप्रीम कोर्ट को गलत हलफनामा दे रही है ऐसी सरकार को बने रहने का कोई हक नही है ऐसी सरकार देश के कानून तथा न्याय प्रणाली को गुमराह कर रही है जो लोकतंत्र तथा संविधान हित में नही हैं इसके साथ साथ आजाद ने कहा कि “हमारा आरोप है कि ५.२ मिलियन डॉलर की जो बेंचमार्क क़ीमत थी उसे प्रधानमंत्री जी ने ख़ुद बदलवा दिया था, इसलिए हमारी माँग है कि जेपीसी से इस मामले की जाँच होनी चाहिए”
इसके साथ साथ श्री मल्लिकार्जुन खड्गे ने कहा

प्रधानमंत्री जी और उनकी वकालत करने वाले झूठ बोल रहे हैं

सरकार रॉफेल की सच्चाई दबा रही है ऐसी सरकार को बने रहने का कोई अधिकार नहीं है

तथा संयुक्त रुप से प्रेस वार्ता में रणदीप सुरजेवाला ने कहा

ताज़ा रहस्योद्घाटन से साफ़ है कि राफ़ेल की फ़ाइलों में ही भ्रष्टाचार, गड़बड़झाले की परतें दबी हैं

रक्षा मंत्रालय के वित्त विभाग के प्रमुख रहे सुधांशु मोहंती जी ने पूरे मामले पर रक्षा मंत्रालय की फ़ाइलों में दर्ज आपत्तियों को उजागर कर दिया

मोदी जी ने, जो १२६ जहाज़ एमएमआरसीए बिड के तहत पहले ख़रीदे जा रहे थे, उनसे भी घटिया जहाज़ ख़रीद लिए, क्या इससे हमारी सुरक्षा के साथ समझौता नहीं हुआ

मोदी जी ने एक अन्य कंपनी यूरोफ़ाइटर के २० प्रतिशत कम क़ीमत वाले प्रस्ताव को नज़रंदाज़ कर देश के ख़ज़ाने को चूना लगाया, रक्षा मंत्रालय की फ़ाइलों में ये तथ्य दर्ज है

कांग्रेस लगातार रॉफेल डील को लेकर हावी है ऐसे में गुलाम नबी आजाद का ये अंदाज सरकार की ओर मुश्किले खडी कर सकता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here