देश की अर्थव्यवस्था को लेकर राहुल गांधी ने फिर दी मोदी सरकार को सलाह

पिछले कुछ समय से भारतीय अर्थव्यवस्था बदहाली की ओर बढ़ रही है और इसमें सबसे बड़ी गिरावट कोरोना वायरस के आने के बाद देखी जाने लगी। इसको लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बार-बार सरकार को चेतावनी भी दी थी मगर इसमें कोई खास सुधार नहीं हो पाया जिस को देखते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने फिर एक बार अर्थव्यवस्था को लेकर ट्वीट किया जा।

राहुल गांधी ने फिर एक बार केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को सलाह दी है। राहुल गांधी ने कहा है कि कई महीनों से जिस खतरे को लेकर मैं सरकार को आगाह कर रहा था, अब उसे रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने भी माना है।

इस बारे में राहुल गांधी ने एक ट्वीट के जरिए अपनी बता कही है। राहुल गांधी ने इस ट्वीट के साथ ही एक अखबार की खबर भी शेयर की है। बता दें, शेयर की गई इस खबर में आरबीआई रिपोर्ट के बारे में लिखा है।

राहुल ने आज सुबह ट्वीट करते हुए लिखा कि ‘‘जिस बारे में मैं महीनों से आगाह कर रहा था उसकी पुष्टि आरबीआई ने की है. सरकार को अब ज्यादा खर्च करने की जरूरत है, कर्ज देने की जरूरत नहीं है. गरीब को पैसा दीजिए, उद्योगपतियों के कर में कटौती नहीं. खपत से अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाइए.’’

राहुल गांधी ने कहा कि मीडिया के जरिए भटकाने से गरीबों की मदद नहीं होगी और न ही आर्थिक त्रासदी गायब होगी.

गौरतलब है कि आरबीआई ने अपनी ताजा रिपोर्ट में कहा है कि अर्थव्यवस्था में मांग को पटरी पर आने में लंबा समय लगेगा और इसका कोरोना वायरस के पहले के स्तर पर पहुंचना सरकारी खपत पर निर्भर करेगा. उसके मुताबिक, भारत को सतत वृद्धि की राह पर लौटने के लिए तेजी से और व्यापक सुधारों की जरूरत है.

आरबीआई ने कहा, ‘‘साल के दौरान अबतक सकल मांग के आकलन से पता चलता है कि खपत पर असर काफी गंभीर है और इसके पटरी पर और कोरोना के पूर्व स्तर पर आने में लंबा समय लगेगा.’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here