पंजाब में कांग्रेस के मुख्यमंत्री चेहरे को लेकर पार्टी का बड़ा बयान आया सामने !

कांग्रेस के महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने पंजाब में कांग्रेस के मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर बड़ा बयान दिया है।

उन्होंने कहा कि 2022 के विधानसभा चुनाव में मौजूदा मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू और प्रचार समिति के अध्यक्ष सुनील जाखड़ मुख्यमंत्री चेहरे के तौर पर मैदान में उतरेंगे।

सुरजेवाला ने कहा कि ये 3 नहीं 111 हैं और इन 111 के साथ लाखों कांग्रेसी इस बार मिलकर चुनाव लड़ेंगे और जीतेंगे।

सुरजेवाला का यह बयान पंजाब चुनाव की घोषणा के साथ आया है, इसीलिए इसे काफी अहम माना जा रहा है। ऐसा इसलिए भी है कि अभी तक कांग्रेस हाईकमान के स्तर पर पंजाब विधानसभा का चुनाव बिना मुख्यमंत्री चेहरे के लड़े जाने की बात कही जाती रही है।

बीते दिनों कांग्रेस हाईकमान सोनिया गांधी के साथ स्क्रीनिंग कमेटी के सदस्यों की बैठक के बाद स्पष्ट कर दिया गया था कि इस बार कांग्रेस पंजाब विधानसभा चुनाव में बिना मुख्यमंत्री के चेहरे के ही उतरेगी।

पंजाब प्रचार समिति के अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने भी कहा था कि इस बार पंजाब कांग्रेस सामूहिक नेतृत्व के साथ चुनाव मैदान में उतरेगी, चाहे किसी को अच्छा लगे या न लगे। जाखड़ का यह बयान पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के बयानों से जोड़ कर देखा गया था क्योंकि नवजोत सिंह सिद्धू लगातार मांग कर रहे हैं कि पंजाब विधानसभा चुनाव मुख्यमंत्री चेहरे के साथ लड़ा जाना चाहिए। इस बात को वह सार्वजनिक मंचों पर भी उठा चुके हैं।

आमतौर पर सिद्धू एक जुमला कहते हैं कि बारात तो है, दूल्हा कहां है? इसे लेकर कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता आपत्ति भी जता चुके हैं। इन नेताओं का कहना है कि नवजोत सिद्धू सामूहिक नेतृत्व की बजाय खुद को मुख्यमंत्री घोषित करवाने पर आमादा हैं, इसलिए वह इस तरह की बयानबाजी कर रहे हैं। ऐसे में अब सुरजेवाला के बयान से साफ हो गया है कि 2022 के पंजाब विधानसभा चुनाव में इस बार पंजाब कांग्रेस किसी एक चेहरे के साथ चुनाव मैदान में नहीं उतरेगी। इस बयान से यह भी स्पष्ट है कि अब कांग्रेस हाईकमान नवजोत सिंह सिद्धू की जिद के सामने झुकने की मुद्रा में नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here