यूपी में प्रियंका गांधी के नारों के शोर से डर गई है योगी सरकार, कांग्रेस के मैराथन कार्यक्रम को सरकार की अनुमति नही !

योगी सरकार से अनुमति न मिलने की वजह से लखनऊ में आज होने वाला कांग्रेस का मैराथन कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के निर्देश पर पार्टी ने युवा लड़कियों के लिए यह कार्यक्रम रखा था। प्रियंका ने हाल ही में नारा दिया था – लड़की हूं लड़ सकती हूं जिसके तर्ज पर कांग्रेस यूपी में अलग-अलग जगहों पर मैराथन का आयोजन कर रही है।

ओमिक्रॉन के खतरों के मद्देनजर लखनऊ में धारा 144 और नाइट कर्फ्यू लागू है।।हालांकि मुख्यमंत्री योगी खुद कल लखनऊ में ही सार्वजनिक कार्यक्रम में शामिल हुए, जिनमें उन्होंने छात्र-छात्राओं को स्मार्ट फोन और टैबलेट बांटीं।

योगी कल बटेश्वर भी गए। वहां भी सार्वजनिक कार्यक्रम था। राज्य के कई मंत्री कई शहरों और ग्रामीण इलाकों में दौरे पर रहे मगर काँग्रेस के इस कार्यक्रम को अनुमति नही मिली।

सूत्रों ने बताया कि राज्य सरकार के अधिकारियों ने कांग्रेसी नेताओं को बताया है कि ऊपर के आदेश पर इस कार्यक्रम को अनुमति नहीं दी गई।

कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने मीडिया से बातचीत में कहा कि प्रियंका गांधी का नारा आज पूरे देश में गूंज रहा है। बीजेपी और सरकार इस नारे से डर गई है।

उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस के मैराथन कार्यक्रम को जानबूझकर रोका गया। हमारे कार्यक्रम से बड़ी तादाद में लड़कियां जुड़ी थीं।

जब पहली अनुमति रोक दी गई तो हमने लखनऊ स्थित इकाना स्टेडियम में यह आयोजन करने के लिए फिर अनुमति मांगी, लेकिन उमसें भी आनाकानी की गई। हमारे सामने इस कार्यक्रम को स्थगित करने के अलावा कोई रास्ता नहीं था।

उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में इस तरह की हरकत शर्मनाक है। यह सरकार डर और अहंकार में डूबी हुई है। लड़कियों के कार्यक्रम में इस तरह का रोड़ा अटकाना ठीक नहीं है।

उधर, इसी इकाना स्टेडियम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने छात्र-छात्राओं को स्मार्ट फोन और टैब बांटे। सीएम ने खुद अपने हाथों से 26 छात्र-छात्राओं को प्रतीकात्मक वितरण किया।

योगी सरकार ने दावा किया कि इकाना स्टेडियम में आज 60 हजार छात्र-छात्राओं को स्मार्ट फोन और टैब बांटे गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here